Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कुशीनगर > एसपी राजीव नारायण मिश्र की बड़ी कामयाबी, 50 हजार का इनामिया कैश वैन लुटेरा, बंगाल जेल से फरार आरोपी किया गिरफ्तार

एसपी राजीव नारायण मिश्र की बड़ी कामयाबी, 50 हजार का इनामिया कैश वैन लुटेरा, बंगाल जेल से फरार आरोपी किया गिरफ्तार

Kushinagar police ,big success, 50 thousand , robbers arrested

 Special Coverage News |  27 Jan 2019 10:51 AM GMT

एसपी राजीव नारायण मिश्र की बड़ी कामयाबी, 50 हजार का इनामिया कैश वैन लुटेरा, बंगाल जेल से फरार आरोपी किया गिरफ्तार

कुशीनगर पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने एक पचास हजार इनामी लुटेरे को गिरफ्तार किये जाने को लेकर जानकारी दी. उन्होंने बताया यह लुटेरा कुशीनगर जिले में हुई कैश वैन लूट कांड का वांछित आरोपी था. जिसके खिलाफ गोरखपुर रेंज के आईजी ने पचास हजार का इनाम घोषित किया था.


एसपी राजीव नारायण ने बताया कि आरोपियों और अपराधियों को लेकर चल रहे सघन तलाशी अभियान के तहत यह वांछित अभियुक्त सत्येन्द्र यादव उर्फ़ पहलवान को थाना हाटा, कसया, स्वाट और सर्विलांस टीम के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी से कब्जे से एक लाख चौसठ हजार नकद कैश और सोने चांदी के जेवरात भी बरामद किये गये है. उन्होंने बताया कि यह आरोपी पश्चिम बंगाल से एक हत्या के मामले में आजीवन सजा का सजायाफ्ता अपराधी है. पैरोल पर आकर फिर यह फरार हो गया था.


एसपी ने बताया इतना ही नहीं जब इससे सख्ती से पूंछा गया तो बताया बंगाल में सन 2004 में सुधाकर झा की हत्या हमने सुपारी लेकर की थी और उसमें मुझे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई. उसके बाद में शादी के नाम पर पैरोल लेकर आज तक वापस नहीं गया. उसके बाद २०११ में मेने फिर हुगली में एक डकैती डाली उसके बाद बिहार के गोपाल गंज में प्रतीक मोटर्स से अठारह लाख की लूट की. आरोपी पिछले साल अक्तूबर में बिहार की सिवान जेल से रिहा हुआ था. जेल से छूटते ही सबसे पहले गोरखपुर में लूट की और महाराजगंज जिले के श्यामदेवरहा थाना क्षेत्र में भी लूट की. उसके बाद हाटा थाना क्षेत्र में दस दिसंबर को कैश वैन लूट की.


बता दें कि इस केस में तीन अभियुक्त पहले भी जेल भेजे जा चुके है. जिनके कब्जे से भी सत्तावन लाख रूपये की नकदी बरामद हुई थी. इस बड़ी घटना का अब जिला पुलिस ने पूरा खुलासा करते हुए चारा आरोपियों को जेल भेज दिया है. चूँकि एसपी कुशीनगर पहले एएसपी एसटीएफ में रह चुके है तो इन्होने पश्चिमी यूपी के कई दुर्दांत अपराधी जेल भेजे है. इनका आरोपियों को पकड़ने का अनुभव ही आज ऐसे दुर्दांत अपराधी को गिरफ्तार करके जेल भेज सके. अभी इस घटना का एक आरोपी गिरफ्तार होना बाकी है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top