Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कुशीनगर > कुशीनगर में मस्जिद में हुए ब्लास्ट के पुलिस ने किया खुलासा, मौलवी समेत चार आरोपी गिरफ्तार

कुशीनगर में मस्जिद में हुए ब्लास्ट के पुलिस ने किया खुलासा, मौलवी समेत चार आरोपी गिरफ्तार

 Special Coverage News |  14 Nov 2019 4:08 AM GMT  |  कुशीनगर

कुशीनगर में मस्जिद में हुए ब्लास्ट के पुलिस ने किया खुलासा, मौलवी समेत चार आरोपी गिरफ्तारसांकेतिक तस्वीर

कुशीनगर जिले में थाना तुर्कपट्टी क्षेत्रान्तर्गत ग्राम बैरागीपट्टी के पश्चिम में स्थित मस्जिद में हुए धमाके के सम्बन्ध में मौके पर ग्रामीणों द्वारा अवगत कराया गया था कि मस्जिद के स्टोर के रूम में संभवतः इन्वर्टर की पुरानी बैटरी के फट जाने से धमाका हुआ था. सभी पहलुओं की जांच हेतु बी.डी.डी.एस. टीम बुलायी गयी थी.टीम द्वारा जांच से मौके पर विस्फोटक पदार्थ होने की पुष्टि की गयी.

मस्जिद में विस्फोट होने की सूचना पर एटीएस और बम निरोधक दस्ते की टीम भी मौके पर पहुंची और गहन छानबीन की. विस्फोट होने की सूचना के बाद पुलिस ने मस्जिद के मौलवी सहित सात लोगों पर केस दर्ज कर लिया. पुलिस ने मौलवी सहित चार लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है. पुलिस की गिरफ्त में आया मौलवी पश्चिम बंगाल का रहने वाला है. एटीएस की पूछताछ में गांव के रहने वाले हाजी कुतबुद्दीन नामक व्यक्ति का नाम सामने आया है.

हाजी कुतबुद्दीन अप्रैल माह में कुछ सामान लेकर आया था और उसे मस्जिद में रख दिया. विस्फोट के बाद से ही हाजी कुतबुद्दीन फरार हो गया है पुलिस उसकी और फरार हुए अन्य तीन लोगों की सरगर्मी से तलाश कर रही है. हाजी कुतबुद्दीन पर कई तरह के मुकदमे दर्ज हैं. वह सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने के आरोप में जेल भी जा चुका है.

क्या है मामला

मस्जिद में नमाज पढ़ने की तैयारी कर रहे थे, उसी वक्त विस्फोट हो गया. विस्फोट इतना तेज था कि खिड़कियों के शीशे तक टूट कर जमीन पर गिर गए थे. पहले तो लोग बैट्री में विस्फोट होने की बात कहने लगे और स्थानीय थाने की पुलिस ने भी बैट्री फटने की बात कही लेकिन मामला जब अधिकारियों तक पहुंचा तो फोरेंसिक टीम ने जांच कर विस्फोटक पदार्थ होने का दावा किया.

लखनऊ एटीएस और बम निरोधक दस्ते की टीम मौके पर पहुंची. जांच में पता चला कि लो ग्रेड के विस्फोटक पदार्थ से विस्फोट हुआ था जिसके बाद पुलिस ने मस्जिद के मौलवी सहित सात लोगों पर केस दर्ज करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया.

एसपी कुशीनगर विनोद कुमार मिश्र ने बताया घटना के सम्बन्ध में सम्पूर्ण पूछताछ से अब तक किसी प्रकार की आंतकवादी/विघटनकारी या राष्ट्रविरोधी गतिविधि प्रकाश में नहीं आयी है. प्रथम दृष्टया मस्जिद मे विस्फोटक सामग्री एक बोरी में बांधकर स्टोर रूम के छत के मध्य लोहे के चुल्ले से लटकाया जाना पाया गया है और चारो तरफ शीशे के दरवाजे और खिड़की के बन्द रहनें से इसमें स्वतः विस्फोट होना प्रतीत होता है. विवेचना प्रचलित है, जिसमें अन्य तथ्यों का गहन परीक्षण किया जायेगा.



Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top