Top
Begin typing your search...

बीजेपी विपक्ष में हो तो डीजल पेट्रोल की कीमतों पर बैलगाड़ी और साईकिल यात्रा निकालती है लेकिन सत्ता में आने के बाद क्यों भूल जाती है - आज़म खान

बीजेपी पेट्रोल डीजल कीमत पर बोले आज़म खान

बीजेपी विपक्ष में हो तो डीजल पेट्रोल की कीमतों पर बैलगाड़ी और साईकिल यात्रा निकालती है लेकिन सत्ता में आने के बाद क्यों भूल जाती है - आज़म खान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

समाजवादी पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष के प्रदेश उपाध्यक्ष आज़म खान ने डीजल पेट्रोल की बढती कीमतों पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि यह भी इतिहास बना दिया मोदी सरकार ने कि डीजल अब पेट्रोल से महंगा बिकेगा।

आज़म खान ने कहा है कि आज 19 वां दिन है जब मोदी सरकार ने डीजल और पेट्रोल के दामों में वृद्धि की है। यह भी एक इतिहास कायम की है मोदी सरकार ने कि डीजल के दाम पेट्रोल से भी ज्यादा हुए हैं। कोरोना महामारी से परेशान हो रही जनता को मोदी सरकार ने राहत देने के बजाए रोज मंहगाई के मुंह में धकेल रही है। बढ़ते डीजल के दाम के चलते निश्चित तौर पर इसका असर ट्रांसपोर्ट सेवा पर पड़ने वाला जिससे आवश्यक वस्तुओं के दाम में बढ़ोत्तरी होगी।

उन्होंने कहा है कि देश की जनता वैसे ही बेरोजगारी और काम जाने की चिंता हलकान हो रही है। ऊपर हर रोज बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दाम उनकी कमर तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है लेकिन मोदी सरकार अपने राजस्व को बढ़ाने के लिए जनता से ही वसूलने में लगी हुई है। देश में लाकडाउन के चलते करोड़ों लोग पहले ही अपने रोजगार से हाथ धो बैठे है, उनको मदद पहुंचाने की बजाए यह सरकार हर रोज जनता को ठगे जा रही है। दूसरी ओर मोदी भक्त और गोदी मीडिया इस मुद्दे पर चुप्पी साधे दूसरे मामले में जनता को उलझा रही है। बढ़ती मंहगाई को लेकर अब भाजपाई सड़क पर नहीं उतर रहे हैं।

आज़म ने कहा कि पेट्रोल, डीजल व गैस सिलेंडर के दामों में लगातार वृद्धि हो रही है जिसके चलते अनाज से लेकर सब्जियों और फलों तक के दाम लगातार बढ़ रहे लेकिन बीजेपी वाले जनता का ध्यान चीनी सामानों के बहिष्कार करने की ओर मोड़ रहे हैं। खुद सरकार तो चीन के सामानों के निर्यात पर रोक नहीं लगा रही है लेकिन जनता के घर में पड़े चीनी सामानों की होली इनके अंध भक्त जलवा रही है। यही है बीजेपी का असली चेहरा, जो कहती कुछ है और करती कुछ है।

आज़म ने कहा कि बीजेपी जब विपक्ष में होती है तो बैलगाड़ी और साईकिल यात्रा निकालती है लेकिन सत्ता में आने के बाद सब भूल जाती है। पूंजिपतियों की यह सरकार हमेशा से उनकी ही बात करती है। आज उनके ही लोग तेल कंपनियों के मालिक हैं जो मनमाने दाम बढ़ा रहे है और मोदी सरकार केवल बातें बना रही है। बीजेपी को लाने वाले दलित और पिछड़े लोग देख लें कि जब मजदूर सड़क पर भूखा प्यासा पैदल दम तोड़ रहा था बीजेपी वालों ने कैसे उनकी मदद की जबकि अपने लोगों को इन्होंने हवाई जहाज भेजकर विदेशों से मंगाया था। दोस्तों आ गए इनके अच्छे दिन और आप ताली और थाली पीटकर खुश रहिए क्योंकि आपको कहां मंहगाई और बेरोजगारी से फर्क पड़ रहा है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it