Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > कुलदीप सेंगर के खिलाफ सीबीआई खंगाल रही है सबूत, आज की सीबीआई ने बड़ी तलाशी शुरू

कुलदीप सेंगर के खिलाफ सीबीआई खंगाल रही है सबूत, आज की सीबीआई ने बड़ी तलाशी शुरू

शुक्रवार को सीबीआई ने रेप पीड़िता के चाचा से रायबरेली जेल में पूछताछ की थी. रात में रायबरेली जिला प्रशासन ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार चाचा को दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल भेज दिया.

 Special Coverage News |  4 Aug 2019 5:53 AM GMT  |  उन्नाव

कुलदीप सेंगर के खिलाफ सीबीआई खंगाल रही है सबूत, आज की सीबीआई ने बड़ी तलाशी शुरू

उन्नाव रेप केस में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर से सीबीआई की टीम ने शनिवार को सीतापुर जेल में पूछताछ की है. आज एक साथ उनके गाँव घर समेत 17 स्थानों पर सीबीआई की जनच जारी है. जानकारी के मुताबिक, सीबीआई ने जेल प्रशासन से मुलाकातियों का विडियो फुटेज मांगा है, जिससे यह साफ हो सके कि सेंगर के जेल में आने के बाद उनसे कौन-कौन लोग मिलने आ चुके हैं. इससे पहले शनिवार को टीम ने मुलाकातियों का रजिस्टर अपने कब्जे में ले लिया था. बता दें कि सीबीआई का तीन सदस्यीय दल सीतापुर जिला जेल गई थी, जहां कई घंटों तक सेंगर से पूछताछ की गई.

सीबीआई जांच में आई तेजी

सड़क हादसे के बाद से शुक्रवार को सीबीआई ने रेप पीड़िता के चाचा से रायबरेली जेल में पूछताछ की थी. रात में रायबरेली जिला प्रशासन ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार चाचा को दिल्ली की तिहाड़ जेल भेज दिया. रायबरेली में सीबीआई टीम गुरबख्शगंज इलाके में दुर्घटनास्थल पर पहुंची. टीम ने मौका-ए-वारदात और मारुति स्विफ्ट कार को टक्कर मारने वाले ट्रक का निरीक्षण किया. दुर्घटना के बाद घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचे पुलिस अधिकारियों से भी सीबीआई की टीम ने बातचीत की. उधर, महिला अधिकारियों सहित सीबीआई अफसरों का एक दल पीड़िता के परिवार वालों से बातचीत करने ट्रामा सेंटर भी पहुंचा था.

यह है पूरा मामला

सेंगर पर आरोप है कि उसने वर्ष 2017 में एक नाबालिग से उन्नाव स्थित अपने आवास पर रेप किया था. सेंगर को बीजेपी ने कुछ ही दिन पहले पार्टी से निष्कासित कर दिया है. गौरतलब है कि रेप पीड़िता की कार में पिछले रविवार को एक तेज रफ्तार ट्रक ने टक्कर मार दी थी. दुर्घटना में पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई थी, जबकि पीड़िता और उनके वकील गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

वेंटिलेटर पर है पीड़िता

बात दें कि सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल उन्नाव रेप पीड़िता और उसके वकील की हालत छठे दिन भी जस की तस बनी हुई है. पीड़िता अब भी वेंटिलेटर पर है, जबकि उनके वकील पर से वेंटिलेटर को हटा लिया गया है. लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के सीएमएस डॉ. एसएन शंखवार ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उन्नाव पीड़िता की हालत स्थिर बनी हुई है.

कौन हैं विधायक कुलदीप सिंह सेंगर?

मूल रूप से फतेहपुर जिले के रहने वाले बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की माखी गांव में तूती बोलती है. यहां के माखी थाना क्षेत्र के सराय थोक पर उनका ननिहाल है. इसलिए वो यहीं आकर बस गए. सेंगर उन्नाव के अलग-अलग विधानसभा सीटों से चार बार से लगातार विधायक निर्वाचित हुए हैं. उन्होंने यूथ कांग्रेस से अपनी राजनीति की शुरुआत की और वर्ष 2002 में भगवंतनगर से बीएसपी के टिकट पर विधायक बने. इसके बाद साल 2007 और वर्ष 2012 में सपा के टिकट पर चुने गए. इसके बाद साल 2017 में बांगरमऊ से बीजेपी के टिकट पर चुनकर विधानसभा पहुंचे.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top