Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > सुदीक्षा भाटी मौत मामला: परिजनों से मिले CM योगी, 20 लाख रुपए की आर्थिक मदद

सुदीक्षा भाटी मौत मामला: परिजनों से मिले CM योगी, 20 लाख रुपए की आर्थिक मदद

सुदीक्षा के परिवार को 15 लाख रुपए सरकार की ओर से और 5 लाख रुपये सांसद सुरेंद्र नागर की ओर से दिए जाएंगे.

 Arun Mishra |  13 Sep 2020 7:23 AM GMT  |  लखनऊ

सुदीक्षा भाटी मौत मामला: परिजनों से मिले CM योगी, 20 लाख रुपए की आर्थिक मदद
x

लखनऊ : अमेरिका (America) में पढ़ने वाली होनहार छात्रा सुदीक्षा भाटी (Sudiksha Bhati) की मौत के मामले में रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने लखनऊ में पीड़ित परिजनों से मुलाकात की. उनके साथ दादरी के विधायक तेजपाल नागर और राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर भी थे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने परिजनों से बातचीत में सुदीक्षा के बारे में, परिवार के कामकाज के बारे में जानकारी ली. सीएम ने हर संभव मदद का भरोसा दिया और उन्हें सांत्वना देते हुए सुदीक्षा के निधन को देश और समाज की अपूरणीय क्षति बताया. उन्होंने कहा कि वह देश की बेटी थी समाज की बेटी थी. बिटिया के जाने का दुख सबको है पर हिम्मत से काम लें, हम सब साथ हैं.

सीएम योगी ने निर्देश दिया कि सुदीक्षा के नाम पर प्रेरणा स्थल और लाइब्रेरी बनाई जाएगी ताकि क्षेत्र के बच्चों को आगे बढ़ने और पढ़ने की प्रेरणा मिल सके. उन्होंने अधिकारियों को परिवार की आर्थिक मदद के भी निर्देश दिए. सुदीक्षा के परिवार को 15 लाख रुपए सरकार की ओर से और 5 लाख रुपये सांसद सुरेंद्र नागर की ओर से दिए जाएंगे.

परिजनों ने सीएम योगी को बताया कि सुदीक्षा बेहद मेधावी थी और अभावों के बीच भी पढ़ने के प्रति लगनशील थी. एक ही कमरे में पूरा परिवार रहता था फिर भी पढ़ाई करती रहती थी. सुदीक्षा की मां और पिता ने मुलाकात के बाद कहा कि मुख्यमंत्री ने उनकी बातों को सुना और सुदीक्षा के नाम पर जो कुछ करने के लिए सहमति जताई यह हमारे लिए संतोष का विषय है.

क्या थी घटना

इससे पहले एसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा, ' ऐसी जानकारी है कि बुलेट मोटरसाइकिल थी और इस पर दो लोग सवार थे. उन्होंने अचानक आपात ब्रेक लिया जिसकी वजह से सुदीक्षा का दो पहिया वाहन पीछे से इससे टकरा गया. दुर्घटना में घायल होने वजह से उसकी मौत हो गई.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it