Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का हुआ निधन

मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का हुआ निधन

मध्यप्रदेश के राज्यपाल का निधन.

 Shiv Kumar Mishra |  21 July 2020 3:10 AM GMT  |  लखनऊ

मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का हुआ निधन
x

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के राज्यपाल (Governor) लालजी टंडन (Lalji Tondon)का आज लंबी बीमारी के बाद लखनऊ के मेदांता अपस्ताल में निधन हो गया. टंडन जी पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे और अस्पताल में भर्ती थे. उन्हें लगातार वेंटिलेटर के सपोर्ट से रखा गया था. आज उन्होंने अंतिम साँस ली. यह जानकारी उनके बेटे और यूपी सरकार के मंत्री आशुतोष टंडन ने दी. उन्होंने अपने ट्विट पर लिखा बाबूजी नहीं रहे. लालजी टंडन का मेदांता अस्पताल में करीब डेढ़ महीने से इलाज चल रहा था. लालजी टंडन के किडनी और लिवर में दिक्कत के बाद उन्हें एडमिट कराया गया था.

11 जून से अस्पताल में भर्ती थे

टंडन को गत 11 जून को सांस लेने में परेशानी, बुखार और पेशाब में दिक्‍कत के कारण अस्‍पताल में भर्ती किया गया था. टंडन की तबीयत खराब होने के चलते उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्‍य प्रदेश का अतिरिक्‍त कार्यभार दिया गया है. मूल रूप से उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय रहने वाले टंडन प्रदेश की बीजेपी सरकारों में कई बार मंत्री भी रहे हैं और अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी के रूप में जाने जाते रहे. इन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी के चुनाव क्षेत्र लखनऊ की कमान संभाली थी और उनके निधन के बाद लखनऊ से ही 15वीं लोकसभा के लिए भी चुने गए.

बिहार और मध्य प्रदेश के गवर्नर रहे

लालजी टंडन को 2018 में बिहार का गवर्नर बनाया गया. इसके बाद 2019 में उन्हें मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया. लखनऊ में लालजी टंडन की लोकप्रियता समाज के हर समुदाय में थी. वे पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के काफी करीबी और अहम सहयोगी भी थे. साल 2004 में लोक सभा के चुनाव की पूर्व संध्या पर टंडन अपने जन्म दिवस के अवसर पर महिलाओं को साड़ी बांट रहे थे जिसमें अचानक भगदड़ मच गई और 21 महिलाओं की मौत हो गई. हालांकि बाद में टंडन को इस मामले में सभी आरोप से मुक्त कर दिया गया.

उनके निधन पर पीएम मोदी ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि श्री लालजी टंडन को समाज की सेवा के उनके अथक प्रयासों के लिए याद किया जाएगा. उन्होंने उत्तर प्रदेश में भाजपा को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. उन्होंने एक प्रभावी प्रशासक के रूप में अपनी पहचान बनाई और हमेशा लोक कल्याण को महत्व दिया। उनके निधन से मैं दुखी हूं.

उनके निधन पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि म.प्र. के मा. राज्यपाल श्री लालजी टंडन जी के निधन की खबर सुनकर शोक हुआ. उनके निधन से देश ने एक लोकप्रिय जननेता, योग्य प्रशासक एवं प्रखर समाज सेवी को खोया है. वे लखनऊ के प्राण थे. ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शान्ति हेतु प्रार्थना करता हूँ। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं.

उनके निधन पर बसपा सुप्रीमों मायावती ने कहा कि मध्यप्रदेश के गवर्नर व यूपी में बीजेपी की सरकार में कई बार वरिष्ठ मंत्री रहे श्री लालजी टण्डन, जो काफी सामाजिक, मिलनसार व संस्कारी व्यक्ति थे, उनका इलाज के दौरान आज लखनऊ में निधन होने की खबर अति-दुःखद व उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदना.


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it