Top
Begin typing your search...

एमएलसी चुनाव: महेश चंद्र शर्मा को नहीं मिला प्रस्तावक, नामांकन होगा खारिज

जिसके क्रम में सपा के 2 और बीजेपी के 10 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन दाखिल किया है।

एमएलसी चुनाव: महेश चंद्र शर्मा को नहीं मिला प्रस्तावक, नामांकन होगा खारिज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ। प्रदेश में 12 सीटों पर होने जा रहे विधान परिषद चुनाव में महेश चंद्र शर्मा ने 13 प्रत्याशी के रूप में आकर सियासी हलचल मचा दी थी। जिसके बाद तरह तरह के कयास लगाए जा रहे थे।

लेकिन महेश चंद्र शर्मा को एक भी प्रस्तावक नहीं मिला है। यानी उनके पर्चे पर एक भी विधायक के हस्ताक्षर नहीं हैं। जिसके चलते उनका पर्चा अवैध माना जाएगा, और खारिज हो जायेगा। अब विधान परिषद चुनाव में उम्मीदवारों का निर्विरोध चुना जाना लगभग तय हैं।

दूसरे शब्दों में कहें तो विधान परिषद की 12 सीटों में 10 भाजपा और 2 सपा के खाते में जाती दिख रही हैं। पहली बार समाजवादी पार्टी को बिना किसी मेहनत के दो विधान परिषद सीटें जीतने की उम्मीद है।


मालूम हो कि सूबे में 28 जनवरी को विधान परिषद की 12 सीटों के लिए मतदान होना था, और 30 जनवरी को मतगणना होनी थी। जिसके क्रम में सपा के 2 और बीजेपी के 10 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन दाखिल किया है।

लेकिन इसी बीच 13वें निर्दलीय प्रत्यासी के रूप में महेश चंद्र शर्मा ने अपना पर्चा दाखिल कर सभी को चौंका दिया था। नियमानुसार पर्चा दाखिल करने वाले उम्मीदवार के पर्चे पर कम से कम 10 विधायकों के हस्ताक्षर होने चाहिए। लेकिन महेश चंद्र शर्मा के पर्चे में 10 विधायकों के हस्ताक्षर नहीं है। जिससे उनका पर्चा खारिज जो जाएगा।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it