Top
Begin typing your search...

डॉ कफील खान की रिहाई पर प्रियंका गांधी ने किया ट्वीट, कही ये बड़ी बात

डॉ. कफील खान को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उनपर लगाए गए NSA को गलत बताते हुए तुरंत रिहा करने के भी आदेश दिए हैं

डॉ कफील खान की रिहाई पर प्रियंका गांधी ने किया ट्वीट, कही ये बड़ी बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) को लेकर भड़काऊ भाषण देने के आरोप में जेल में बंद डॉ. कफील खान को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उनपर लगाए गए NSA को गलत बताते हुए तुरंत रिहा करने के भी आदेश दिए हैं. इसी कड़ी में कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट करके योगी सरकार से डॉ कफील खान की जल्द रिहाई की मांग की.

मंगलवार को प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा, "आज इलाहाबाद हाई कोर्ट ने डॉ कफील खान के ऊपर से रासुका हटाकर उनकी तत्काल रिहाई का आदेश दिया." आशा है कि यूपी सरकार डॉ कफील खान को बिना किसी विद्वेष के अविलंब रिहा करेगी. डॉ कफील खान की रिहाई के प्रयासों में लगे तमाम न्याय पसंद लोगों व उप्र कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को मुबारकबाद. बता दें कि इससे पहले प्रियंका गांधी ने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को डॉ कफिल को न्याय दिलाने का अनुरोध करते हुए पत्र भी लिखा था.

बता दें कि भड़काऊ भाषण देने के आरोप में डॉ कफील खान मथुरा जेल में बंद हैं. यह आदेश चीफ जस्टिस गोविन्द माथुर और जस्टिस एसडी सिंह की खंडपीठ ने डॉ कफील खान की मां नुजहत परवीन की बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने 15 दिन में फैसला लेने का दिया था निर्देश

गौरतलब है कि 11 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट से डॉक्टर कफील खान की मां की अर्ज़ी पर 15 दिन में फैसला लेने को कहा है. डॉ. कफील अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों के दौरान भड़काऊ बयान देने के आरोप में एनएसए के तहत जेल में बंद हैं. उनके ऊपर तीन बार एनएसए बढ़ायी गई है.

सोशल मीडिया पर चलाई थी रिहाई की मुहीम

इससे पहले डॉ. कफील की पत्नी ने ट्विटर पर अपने पति की रिहाई को लेकर 4 अगस्त को एक मुहिम भी चलाई थी, जिसे लोगों का काफी समर्थन मिला था. डॉ. कफील की पत्नी 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर डॉ. कफील के समर्थन में गुहार लगा चुकी है. उन्हें कथित रूप से CAA के विरोध के बीच 13 दिसंबर, 2019 को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में एक भड़काऊ भाषण देने के लिए इस साल जनवरी में मुंबई से गिरफ्तार किया गया था.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it