Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > यूपी की जेलों से रिहा हो रहे ये बंदी, 370 हटाने के बाद आगरा-लखनऊ में थे कैद

यूपी की जेलों से रिहा हो रहे ये बंदी, 370 हटाने के बाद आगरा-लखनऊ में थे कैद

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के बाद राज्य के अनेक कैदियों को उत्तर प्रदेश की जेलों में शिफ्ट किया गया था.

 Shiv Kumar Mishra |  26 April 2020 7:00 AM GMT  |  लखनऊ

यूपी की जेलों से रिहा हो रहे ये बंदी, 370 हटाने के बाद आगरा-लखनऊ में थे कैद
x

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के बाद राज्य के अनेक कैदियों को उत्तर प्रदेश की जेलों में शिफ्ट किया गया था. अब यूपी की जेलों से इन बंदियों को रिहा करने का काम शुरू हो गया है. अभी तक 79 कैदियों को रिहा किया जा चुका है.

5 अगस्त 2019 को नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से जब अनुच्छेद 370 को हटाया तो वहां के कई कैदियों को देश के दूसरे राज्यों की जेल में डाल दिया गया था. खुफिया एजेंसियों और केंद्र सरकारों को अंदेशा था कि इन कैदियों के जम्मू-कश्मीर में रहते हुए वहां कानून-व्यवस्था की स्थिति पैदा हो सकती है.

यूपी की जेल से रिहा हुए जम्मू-कश्मीर के कैदी

इसके बाद जम्मू-कश्मीर से 239 कैदी उत्तर प्रदेश की अलग-अलग जेलों में रखे गए थे, इनमें से 79 कैदियों को रिहा कर उन्हें जम्मू-कश्मीर भेजा जा चुका है. यूपी की जेलों में इस वक्त 160 कश्मीरी बंदी बचे हैं.

10-11 अगस्त को यूपी की जेलों में शिफ्ट किए गए थे कैदी

10-11 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से 24 कैदियों को लखनऊ जेल में शिफ्ट किया गया था. हालांकि सुरक्षा के मद्देनजर इन कैदियों की पहचान सार्वजनिक नहीं की गई थी. इससे पहले 90 कैदी जम्मू कश्मीर से आगरा जेल शिफ्ट किए गए थे. इन्हें उच्च सुरक्षा बैरक में बंद किया गया था. इन कैदियों में कई अलगाववादी शामिल थे.

जम्मू-कश्मीर में जनजीवन पटरी पर

बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद वहां की स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है. वहां जनजीवन सामान्य हो रहा है. राज्य प्रशासन ने जम्मू-कश्मीर में इंटरनेट सेवाएं शुरू कर दी है. कोरोना संक्रमण से पहले वहां जनजीवन सामान्य था. इसके अलावा प्रशासन ने पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला को भी रिहा कर दिया है.

Tags:    
Next Story
Share it