Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > कांग्रेस का बड़ा फैसला, सपा-बसपा और रालोद के लिए छोड़ी ये 7 सीटें

कांग्रेस का बड़ा फैसला, सपा-बसपा और रालोद के लिए छोड़ी ये 7 सीटें

कांग्रेस ने कहा बाकी उन सीटों को भी खाली छोड़ देगी जहां से मायावती, अजीत सिंह और जयंत चौधरी लड़ेंगे।

 Special Coverage News |  17 March 2019 11:34 AM GMT  |  दिल्ली

कांग्रेस का बड़ा फैसला, सपा-बसपा और रालोद के लिए छोड़ी ये 7 सीटें

लखनऊ : उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने बड़ा फैसला करते हुए सपा-बसपा और रालोद के लिए 7 सीटें छोड़ने का ऐलान किया है। इससे पहले गठबंधन ने कांग्रेस के लिए दो सीटों पर अपने प्रत्याशी नहीं उतारने का फैसला किया था। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने मीडिया को बताया कि कांग्रेस ने राज्य की सात सीटें बसपा-सपा-आरएलडी गठबंधन के लिए छोड़ने का फैसला किया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी इन सात सीटों पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है।

कांग्रेस ने बसपा-सपा के लिए जिन सात सीटों को छोड़ने का ऐलान किया है उनमें सपा का गढ़ कही जाने वाली सीटें मैनपुरी, कन्नौज और फिरोजाबाद शामिल हैं। कांग्रेस ने कहा बाकी उन सीटों को भी खाली छोड़ देगी जहां से मायावती, अजीत सिंह और जयंत चौधरी लड़ेंगे।



वहीं, अपना दल के लिए छोड़ी 2 सीटें- प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने बताया कि उन्होंने अपना दल के लिए भी दो सीटें छोड़ने का ऐलान किया है। अपना दल के लिए गोंडा और पीलीभीत की सीटें खाली रखी गईं हैं।

राजबब्बर ने बताया कि उन्होंने जन अधिकार पार्टी(JAP) के साथ उनका सात सीटों पर समझौता हुआ है। इस सात सीटों में पांच पर JAP चुनाव लड़ेगी जबिक दो पर कांग्रेस लड़ेगी।

उन्होंने बताया कि इससे पहले महान दल से भी बातचीत हुई है। महान दल ने कहा कि वे जो भी सीटें देंगे उनपर वे चुनाव लड़ने को तैयार हैं। इसके साथ ही विधानसभा चुनाव में भी साथ मिलकर लड़ेंगे। राजबब्बर ने बताया कि महान दल लोकसभा चुनाव कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर लड़ेगी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top