Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मैनपुरी > मैनपुरी पुलिस ने दोहरे हत्याकांड किया महज 8 घंटे में खुलासा,एसपी अजय कुमार ने जाँबांज टीम को दिया 20,000 का नक़द ईनाम

मैनपुरी पुलिस ने दोहरे हत्याकांड किया महज 8 घंटे में खुलासा,एसपी अजय कुमार ने जाँबांज टीम को दिया 20,000 का नक़द ईनाम

मैनपुरी एसपी अजय कुमार ने इस केस के खुलासा करने वाली जाँबांज टीम को 20,000 का नक़द ईनाम दिया है.

 Shiv Kumar Mishra |  23 Feb 2020 4:16 AM GMT  |  मैनपुरी

मैनपुरी पुलिस ने दोहरे हत्याकांड किया महज 8 घंटे में खुलासा,एसपी अजय कुमार ने जाँबांज टीम को दिया 20,000 का नक़द ईनाम
x

डबल मर्डर की घटना का टीम मैनपुरी पुलिस द्वारा महज रिकॉर्ड 8 घण्टे के भीतर सफल खुलासा किया गया. दोहरे हत्याकांड की खबर सुनकर एसपी अजय कुमार ने सख्त निर्देश देते हुए जल्द से जल्द खुलासा कर आरोपियों को जेल भेजने की बात कही थी.

एसपी अजय कुमार ने बताया कि घटना के बाद मौका मुआयना करने से कुछ बातें बड़ी स्पष्ट से नजर आने लगी थी. लेकिन बिना सबूत के हम कुछ नहीं कह सकते थे. चूँकि हत्यारे अपना मकसद पूरा कर चुके थे अब पुलिस को अभी अपना कार्य करना बाकी था. घटना की जांच करने पर पता चला कि हत्यारा कोई और नहीं मृतक विघ्नेश का सगा छोटा भाई अवनेश है.

एसपी ने बताया कि हत्यारे ने अपने जुर्म का इक़बाल किया और उसकी निशानदेही पर आला-ए-क़त्ल (बँसूला) और ख़ून के धब्बे लगे स्वेटर को बरामद कर लिया गया है. हत्यारा शराब का आदी है. हत्यारा शराब के लिए अपने हिस्से का 4 बीघा ज़मीन पहले ही बेच चुका है.जबकि इसकी पत्नी भी इसे छोड़कर 29-जनवरी को मायके जा चुकी है.

उन्होंने बताया कि अब हत्यारे की नज़र अब सगे भाई की ज़मीन पर थी. भाई को कोई संतान नहीं हो रही थी, अत: उसने अपने ही साढ़ू की बेटी वैष्णवी (8 माह) को गोद ले लिया था. इस बात से हत्यारा अपने भाई-भाभी से काफ़ी चिढ़ा हुआ था.अपने रास्ते के सभी काँटों को साफ़ कर, भाई की ज़मीन पर क़ब्ज़ा कर लेने के मक़सद से घटना को अंजाम दिया था.अपराधी को भेजा जा रहा है.

मैनपुरी एसपी अजय कुमार ने इस केस के खुलासा करने वाली जाँबांज टीम को 20,000 का नक़द ईनाम दिया है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it