Home > अब्बास अंसारी सच में निकला गरीबों और जरुरतमंदों का मसीहा, मकर संक्रांति पर पहुंचे गरीबों के बीच

अब्बास अंसारी सच में निकला गरीबों और जरुरतमंदों का मसीहा, मकर संक्रांति पर पहुंचे गरीबों के बीच

मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर आप जिस रात के 7 बजे से 12 बजे तक मऊ के विभिन्न मन्दिरों में जा जाकर साधु संतों और पुजारियों को इस गलनभरी ठंड में रजाई प्रदान की

 शिव कुमार मिश्र |  2018-01-15 05:25:40.0  |  मऊ

अब्बास अंसारी सच में निकला गरीबों और जरुरतमंदों का मसीहा, मकर संक्रांति पर पहुंचे गरीबों के बीच

इस समय मऊ का अंसारी परिवार काफी समस्यायों से जूझ रहा है, लेकिन किसी परेशानी की चिंता किये बगैर आज फिर मऊ विधायक मुख़्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने एक मिशाल पेश कर सबकों चौंका दिया. अब्बास मकर संक्रांति के पर्व पर मंदिरों में जाकर पुजारियों को रजाई उढाते नजर आये, फिर क्या, पुजारियों का हाथ उनके सर पर था.

जैसा परिवार का नाम सुना था ठीक वैसा ही आज व्यक्तित्व आपके अंदर दिखा. अंसारी परिवार जिस तरह गंगा जमुनी तहजीब के लिये जानी जाती उस कसौटी पर आप खरे साबित हो रहे है आज ये शब्द हर व्यक्ति के मुँह से बरबस आप के इस नेक कार्य से लोग कह रहे थे.




मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर आप जिस रात के 7 बजे से 12 बजे तक मऊ के विभिन्न मन्दिरों में जा जाकर साधु संतों और पुजारियों को इस गलनभरी ठंड में रजाई प्रदान की और रजाई पाने से अभिभूत होकर आप को जिस तरह मन्दिरों के पुजारी आपके सर पर हाथ कर आपको आशीर्वाद दे रहे थे.


बहुत गर्व व सौभाग्य की बात है
जिनकी सोच समाज के जरुरतमंदो की मदद करने की हो जिनकी सोच गंगा जमुनी तहजीब को कायम रखने की हो जिनकी सोच आपसी प्रेम भाईचारा हो. धन्य है वो अंसारी परिवार जिसमें आपने जन्म लिया और उस परिवार की विचारधारा ही इंसानियत है और उस विचारधारा को बढ़ा रहे है. जात धर्म सम्प्रदाय से ऊपर उठकर आज आपने ये दिखा दिया जो इस देश में इंसानियत खत्म करना चाहते है.



अब्बास भाई आपको इस नेक कार्य के लिए हृदय से बधाई

आज आपने मानवता की एक मिसाल पेश करते हुए अंसारी परिवार के साथ इस देश प्रदेश को गौरवान्वित कर दिया. हालांकि पहले भी अंसारी परिवार मानवता के काम में कभी पीछे नहीं रहा.

Tags:    
Share it
Top