Top
Begin typing your search...

घोसी विधानसभा के बीजेपी विधायक फागू चौहान ने दिया इस्तीफा

घोसी विधानसभा के बीजेपी विधायक फागू चौहान ने दिया इस्तीफा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश की घोसी विधानसभा से विधायक और उप्र सरकार के पूर्व मंत्री फागू चौहान ने शुक्रवार को अपना इस्तीफा विधानसभा ह्दय नारायण दीक्षित को सौंप दिया। दरअसल फागू चौहान को हाल ही में बिहार के राज्यपाल बनाया गया था। फागू चौहान ने आज विधानसभा अध्यक्ष ह्रदय नारायण दीक्षित को उन्होंने अपना इस्तीफा सौंप दिया।

बिहार के राज्यपाल बनाए गए फागु चौहान उत्तरप्रदेश की राजनीति में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। खासकर पिछड़ा वर्ग में इनका नाम राज्य के शीर्ष नेताओं में गिना जाता है। फागू चौहान एकमात्र ऐसे शख्स हैं जो यूपी के घोसी विधानसभा क्षेत्र से सर्वाधिक छह बार विधानसभा चुनाव जीता है। वह वर्तमान में भी घोसी विधानसभा सीट से विधायक हैं। घोसी विधानसभा सीट यूपी के मऊ में पड़ती है।

फागू चौहान वर्तमान में उत्तरप्रदेश राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के चेयरमैन भी हैं। उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त है। वे दो बार बसपा से विधायक रहे। मायावती मंत्रिमंडल वे एक बार मंत्री भी रहे जबकि भाजपा की सरकार में रामप्रकाश गुप्ता के मंत्रिमंडल में भी वे मंत्री रहे। फागू चौहान राजनीतिज्ञ के साथ-साथ व्यवसायी भी है।

राजनीतिक सफर

पिछड़ी जाति से आने वाले फागु चौहान छह बार के विधायक हैं। साल 1985 में पहली बार दलित मजदूर किसान पार्टी से घोसी से विधायक बने। 1991 में वे जनता दल से विधायक बने। 1996 में भाजपा में शामिल हुए और वे विधायक बने। 2002 में भी वे भाजपा के टिकट पर ही विधायक बने। 2007 के चुनाव में फागूचौहान बसपा के टिकट पर चुनाव जीता था। इस दौरान वे मंत्री भी रहे। बाद में वे फिर भाजपा में शामिल हुए। 2017 के चुनाव में वे फिर से भाजपा से विधायक बने। 2017 के चुनाव में फागू चौहान ने बसपा के अब्बास अंसारी को सात हजार से अधिक वोट से हराया था।

Next Story
Share it