Home > कब्रगाहो की जमीनों को हमें मत बतलाइए, राजधानी हमने दी थी हमें राजधानी चाहिये- अब्बास अंसारी

कब्रगाहो की जमीनों को हमें मत बतलाइए, राजधानी हमने दी थी हमें राजधानी चाहिये- अब्बास अंसारी

मऊ में मनी बाबा साहब की जयंती धूमधाम से

 शिव कुमार मिश्र |  2018-04-14 14:12:50.0  |  मऊ

कब्रगाहो की जमीनों को हमें मत बतलाइए, राजधानी हमने दी थी हमें राजधानी चाहिये- अब्बास अंसारी

बाबा साहब भीमराव आंबेडकर की 127 जयंती को युवा नेता अब्बास अंसारी ने बड़ी धूमधाम से मनाया. बसपा नेता ने एक नज्म पढ़ते हुए कहा कि कब्रगाहो की जमीनों को हमें मत बतलाइए, राजधानी हमने दी थी हमें राजधानी चाहिये.








अब्बास अंसारी ने कहा कि बाबा साहब के सपनों को पूरा करने के लिये 2019 में बहुजन की सरकार बनानी होगी बाबा साहब के द्वारा बनाये गये संविधान से छेड़छाड़ करने के फेर में है. जिससे कभी भी पूरा नहीं होने दिया जायेगा.




अब्बास ने कहा कि अम्बेडकर के लोगों को कुत्ता बिल्ली छछूंदर तक कहते हो और फिर उसी अम्बेडकर जी की दिखावटी जयंती मनाते हो. शर्म आनी चाहिए इस घटिया राजनीत से, भाजपा के पास आपसी एकता को तोड़ने के सिवा दूसरा कोई उपाय नहीं है लेकिन दलित और पिछड़े समाज के साथ साथ अल्पसंख्यक समाज के लोग उनके मंशा को पूरा नहीं होने देंगे.




अब्बास ने कहा कि अम्बेडकर जी ने अपना पूरा जीवन दलितों पिछड़ों और अल्पसंख्यको के हितों के लिये लड़े आज बाबा साहब द्वारा संविधान की रक्षा के लिये सभी समान विचारधारा के लोगों को इनसे आने वाले समय में लड़ने के लिये आगे आना होगा !

Tags:    
Share it
Top