Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मेरठ > राशन घोटाला लाखों का और जुर्माना महज पांच हजार रुपए?

राशन घोटाला लाखों का और जुर्माना महज पांच हजार रुपए?

ना ही राशन डीलर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई और न ही कोई रिकवरी की गई?

 Special Coverage News |  2018-10-12 09:43:54.0  |  दिल्ली

राशन घोटाला लाखों का और जुर्माना महज पांच हजार रुपए?

ऋषभ भारद्वाज

मेरठ : एक राशन डीलर ने गरीबों के राशन का जमकर घोटाला किया। और दूसरी तरफ अधिकारियों ने मिली भगत करके राशन डीलर पर महज पांच हजार रू का जुरमाना लगा कर अपना पल्ला झाड़ लिया।

दरअसल पूरा मामला कुराली गाव का है। जहां अमित नाम के व्यक्ति के पास सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान थी। जिसके ऊपर गांव वालों ने आरोप लगाया। कि उसने कई सालों से जनता को राशन नही दिया। इस पूरे मामले मे शिकायत के बाद जब एसडीएम ने जांच की। तो इस पूरे मामले कई गंभीर अनियमितताएं देखने को मिली। जिसके चलते अमित नाम के इस राशन डीलर की दुकान को सील कर दिया गया। लेकिन आपूर्ति विभाग ने इस पूरे मामले मे खेल करते दुकान को निरस्त करते हुए। महज पांच हजार रू का जुरमाना लगा कर अपना पल्ला झाड़ लिया।

यानी घोटाला लाखों करोडों का और जुरमाना सिर्फ पांच हजार का लगाया गया। और ना ही राशन डीलर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई और न ही कोई रिकवरी की गई। इस मामले मे जब डीएसओ से बात की गई तो उनका है। कि कार्यवाही जारी है।

वहीँ जब जिलापूरति विभाग ने कोई कार्रवाई न करने से गांव के कई लोग नाराज हो गये। जिसके चलते अब गांव वालों ने इस मामले मे खाद रसद विभाग मतंरी अतुल गर्ग को शिकायत दी है। जिसमें कहा गया है कि इतना बडा राशन घोटाला करने के बाद भी अधिकारीयों ने ना तो मुकदमा दर्ज कराया और ना ही कोई रिकवरी की और महज राशन डीलर को साफ पांच हजार का जुर्माना लगा कर छोड दिया। इस पूरे मामले मे मतंरी जी ने जाच के बाद कारवाई के आदेश दिये हैं।

वहीँ बताया जा रहा है। कि उक्त राशन फिर से जिलापूर्ति विभाग के अधिकारियों की मिली भगत से फिर से वही राशन की दुकान हासिल करने की कोशिश मे लगा हुआ है।

Tags:    
Share it
Top