Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मेरठ > कांवड़ यात्रा पर दिया एडीजी ज़ोन ने बड़ा संदेश, कांवड़ यात्रा पर आये श्रद्धालुओं यूपी पुलिस हार्दिक स्वागत करती है

कांवड़ यात्रा पर दिया एडीजी ज़ोन ने बड़ा संदेश, कांवड़ यात्रा पर आये श्रद्धालुओं यूपी पुलिस हार्दिक स्वागत करती है

 Special Coverage News |  19 July 2019 8:06 AM GMT  |  मेरठ

कांवड़ यात्रा पर दिया एडीजी ज़ोन ने बड़ा संदेश, कांवड़ यात्रा पर आये श्रद्धालुओं यूपी पुलिस हार्दिक स्वागत करती है

मेंरठ जोन के अपर पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार ने कहा कि प्रसिद्ध कांवड़ मेला शुरू हो चुका है। कांवड़ मेले को सफल और श्रद्धालुओं की सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं। कांवड़ यात्रा को निर्विघ्न सफल बनाना पुलिस की प्राथमिकता है। उन्होंने एक वीडियो संदेश के माध्यम से प्रसिद्ध कांवड़ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को इस संबंध में आश्वस्त भी किया है।

एडीजी प्रशात कुमार ने कहा कि श्रावण शिवरात्रि 2019 का प्रसिद्ध कांवड़ मेला शुरू हो चुका है और मेरठ जोन में सभी श्रद्धालुओं के आगमन पर मैं और पूरे पुलिस विभाग की ओर से सबका स्वागत करता हूं तथा ये आशवस्त करना चाहता हूं कि आपकी इस कठिन यात्रा को सकुशल और अच्छी तरीके से संपन्न कराने के लिए पुलिस और प्रशासन ने काफी व्यवस्थाएं की हैं। पूरे मार्ग को सीसीटीवी से आच्छादित किया गया है। जगह जगह पर तरह तरह की सुविधाएं आपको मुहैया कराई गई हैं।

एडीजी प्रशात कुमार ने कहा कि हमारी गाड़ियां खड़ी हैं। डाक्टर्स के इंतजामात हैं। सफाई की व्यवस्था की गई है। जो खाद्य सामग्री है वो सही रेट पर मिले और सही उसकी गुणवत्ता हो, इस पर भी ध्यान दिया जा रहा है। ये भी सुनिश्चित कराया जा रहा है कि किसी भी तरह के अवांछनीय तत्व इस कांवड़ यात्रा के दौरान किसी तरह की गड़बड़ी ना पैदा करने पाएं। मैं अपने परिवार के मुखिया डीजीपी महोदय की तरफ से सबको आश्वस्त करना चाहूंगा कि इस दौरान किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान ना दें तथा तत्काल पुलिस की सहायत करें। यदि आप कोई भी चीज ऐसी लगती है जिससे गड़बड़ी होने वाली है तो वहां जगह जगह पर हमारे बूथ बने हैं। हमारे लोग वहां मौजूद हैं। आप हमारी सहायता करें और उत्तर प्रदेश पुलिस हमेशा आगे बढ़ कर आपकी सुरक्षा एवं आपकी इस यात्रा को सफल बनाने के लिए कृतसकल्प है।

बता दें कि कांवड़ मेला-2019 में सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिकोण से मेरठ जोन को 18 सुपर जोन, 104 जोन, 53 सब-जोन, 306 सैक्टर, 80 सब-सैक्टर में विभाजित किया गया है। जोन के जनपदों में कांवड़ मार्ग पर मिश्रित आबादी वाले 444 क्षेत्र है। विभिन्न स्थानों पर 75 वाच टावर एवं 746 सी.सी.टी.वी. लगाये जाने प्रस्तावित है। कांवड मार्ग में 37 अस्पताल है, जिन्हें आपात स्थिति में तैयार रहने हेतु कहा गया है। स्थानीय पुलिस के अतिरिक्त मुख्यालय स्तर से प्राप्त 19 कम्पनी एक प्लाटून पी.ए.सी, दो कम्पनी फ्लड पी.ए.सी., अपर पुलिस अधीक्षक-11, पुलिस उपाधीक्षक-26, निरीक्षक ना.पु.-77, उपनिरीक्षक ना.पु.-160, आरक्षी ना.पु.- 650, यातायात निरीक्षक- दो, यातायात उपनिरीक्षक- 5, यातायात मुख्य आरक्षी-15, यातायात आरक्षी- 50 को सुरक्षा डयूटी हेतु नियुक्त किया जायेगा।

इससे पहले एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि इसके अतिरिक्त आवश्यकतानुसार विभिन्न स्थानों पर मुख्यालय से प्राप्त क्यू.आर.टी. टीम-06, ए.टी.एस. टीम-02, बी.डी.डी.एस.टीम-03, ए.एस.चैक टीम-06, एन्टी माइन्स टीम-01 को नियुक्त किया जायेगा।कांवड़ मार्गा पर जनपदों में उपलब्ध 411 चार पहिया एवं 212 दुपहिया पीआरवी वाहनों को इस प्रकार नियुक्त किया जायेगा कि उनका रेस्पोन्स टाइम कम से कम रहे।

नहर पटरी कांवड़ मार्ग पर फ्लड पीएसी के अतिरिक्त स्थानीय गोताखोरों की भी मदद लिये जाने की व्यवस्था की गई है। कांवड़ मार्ग पर लगने वाले खानपान का सामान बेचने वाली दुकानों पर रेट लिस्ट लगाये जाने एवं खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता सुनिश्चित करनें हेतु चैकिंग अधिकारी नियुक्त किये जाने हेतु खाद्य विभाग को सूचित किया गया है।

कांवड़ मार्ग पर पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था एवं एम्बूलेंस की व्यवस्था भी सुनिश्चित करायी जा रही है। कांवड़ यात्रा मार्ग पर निरंतर डिस्पले मोबाईल वैन की व्यवस्था की गई जिसमें श्रद्धालुओं को क्या करें क्या न करे का निरंतर डिस्पले किया जायेगा।

यातायात डायवर्जन हेतु सभी जनपदों को स्थान चिन्हित कर व्यवस्था हेतु निर्देशित किया गया है। जहां जहां से रूट डायवर्जन किया जायेगा उसका समय से प्रचार प्रसार मीडिया के माध्यम से भी कराया जायेगा। तथा तदानुसार यातायात व्यवस्था हेतु पुलिस कर्मी नियुक्त किये जायेंगे। ताकि किसी भी दशा में जाम की स्थिति न पैदा हो।

रूट डायवर्जन के सम्कबन्ध में पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश द्वारा सीमावर्ती प्रदेशों के पुलिस प्रमुखों को पत्राचार कर सूचित कराया गया है। कि अपने अपने राज्यों के सभी ट्रांसपोर्टरों को अधनीनस्थों के माध्यम से सूचित करा दिया जाये कि कांवड यात्रा मार्ग पर जाने के लिये रूट डायवर्जन के दृष्टिगत शीघ्र नष्ट/खराब होने ; खाद्य पदार्थोें के मान की बुकिंग न करें एवं लम्बे रास्ते से परिवहन हेतु आवश्यक व्यवस्था कर लें। ताकि किसी प्रकार की कोई समस्या न हो।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it