Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मेरठ > मेरठ में अब युवती के बाद युवक की पिटाई का वीडियो वायरल, युवक को पुलिस के सामने पीटा

मेरठ में अब युवती के बाद युवक की पिटाई का वीडियो वायरल, युवक को पुलिस के सामने पीटा

 Special Coverage News |  2018-09-27 02:49:57.0  |  मेरठ

मेरठ में अब युवती के बाद युवक की पिटाई का वीडियो वायरल, युवक को पुलिस के सामने पीटा

मेरठ में विश्व हिंदू परिषद कार्यकर्ताओं के हाथों मुस्लिम लड़के और हिंदू लड़की की पिटाई मामले में अब दूसरा वीडियो सामने आया है. पुलिस की मौजूदगी में विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता गालियों के साथ मेडिकल छात्र को लव-जेहादी बताकर पीट रहे हैं और उसे धमकी दे रहे हैं कि एक-एक को चुन-चुन कर मारेगें. इस दौरान छात्र की आंख को बुरी तरह घायल कर दिया जाता है. छात्र के कपड़ों पर पिटाई के बाद खून के निशान भी दिख रहे हैं.


वीडियो शूट से पहले भी मेडिकल छात्र पीटा गया

यह वीडियो मेरठ के जाग्रति बिहार के उस स्थान का बताया जा रहा है जहां मेडिकल छात्र पीजी में किराए पर रहता है. घर में घुसकर पिटाई के बाद विहिप कार्यकर्ता छात्र को बाहर खींच लाये हैं और उसके आसपास घेरा बनाकर खड़े हैं. एक पुलिसवाला भी छात्र के पास खड़ा दिख रहा है. वीडियो के शुरूआत में छात्र पिटाई के बाद एक कोने में बैठा है और उसके कपड़ों पर खून के निशान साफ देखे जा सकते हैं. पुलिसवाले की मौजूदगी में विहिप कार्यकर्ता उसको लव जेहादी बताकर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं.


मुस्लिम छात्र की पुलिस के सामने पिटाई

विहिप कार्यकर्ता पुलिसवाले को बताते हैं कि आज पकड़ में आया है. इसने कई कमरे किराये पर ले रखे हैं. तभी दूसरी आवाज आती है कि एक-एक करके मारेगें...चुन-चुन कर मारेगें. तभी विहिप कार्यकर्ता आगे की ओर आते हैं और पुलिसवाले की मौजूदगी में छात्र का गिरेबां पकड़कर उसे दबोचकर मारने लग जाते हैं. पिटाई से कराहता छात्र जमीन पर बैठ जाता है. पिटाई के दौरान पुलिसवाला छात्र को छुड़ाने की कोशिश तब करता है जब छात्र की पिटाई हो चुकी होती है.


पुलिस ने वीडियो आने से पहले ही किया डेमेज कंट्रोल

यह वीडियो व्हाट्सअप और ट्विटर के जरिये सोशल मीडिया पर आना शुरू हुआ. पुलिस को शायद यह वीडियो पहले ही मिल गया था. तभी पुलिस ने इस वीडियो के वायरल होने से पहले ही मेरठ के मेडिकल थाने में विहिप कार्यकर्ताओं के लीडर मनीष लोहिया समेत 18 नामजद और 20-25 अज्ञातों के खिलाफ मारपीट और जान से मारने की धमकी का केस दर्ज कर लिया.


केस दर्ज हो चुका है, मगर गिरफ्तारी कब?

एसपी कुमार रणविजय सिंह ने बताया कि इलाके के चौकी इंचार्ज को इस मामले में जांच का जिम्मा दिया गया था. जांच के दौरान जब मौके पर छात्र-छात्रा से पिटाई और अभद्रता के सबूत मिले तो चौकी इंचार्ज प्रमोद कुमार ने विहिप कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज कराया है. इस मामले में जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी भी होगी.


लव जेहाद के नाम पर ऐसे हुई भगवा ब्रिगेड और पुलिस की गुंडागर्दी

मेरठ मेडिकल कालेज की हिंदू छात्रा को मुस्लिम दोस्त के घर पर देखे जाने के बाद विहिप कार्यकर्ताओं ने घर में घुसकर दोनों की पिटाई की थी और छात्रा के साथ अभद्र व्यवहार भी किया था. बाद में मौके पर पुलिस बुलाकर दोनों को खाकी के हवाले कर दिया गया. पुलिस जिस पीवीआर गाड़ी में छात्रा को थाने लेकर आई, उसमें छात्रा के साथ पुलिसवालों ने भी हद दर्जे का दुर्व्यवहार किया. छात्रा की पिटाई की गई, उसके गालियां दी गई और धर्म से संबधित अपशब्द कहे गये. महिला मर्यादा को तार-तार करते हुए सिपाहियों ने छात्रा से अश्लील बातें कही और एक सिपाही ने जबरन उसका चेहरा सार्वजनिक कर दिया. सबसे गंभीर बात यह थी कि पीवीआऱ गाड़ी में छात्रा से हुई यह करतूत खुद पुलिसवालों ने मोबाइल से शूट की और फिर उस वीडियो को वायरल कर दिया. इस घटना का दोषी किसे माना जाएगा. वायरल वीडियो में जो शब्द कहे गए वे वास्तव में बेहद घटिया और शर्मनाक है.

Tags:    
Share it
Top