Breaking News
Home > दहेज की मांग ने दूल्हे को पहुंचाया थाने, दुल्हन ने नहीं की शादी

दहेज की मांग ने दूल्हे को पहुंचाया थाने, दुल्हन ने नहीं की शादी

उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद में एक दहेज लोभी दूल्हे और परिवार को दहेज मांगना उस समय भारी पड़ गया.

 शिव कुमार मिश्र |  2018-04-29 10:09:40.0  |  दिल्ली

दहेज की मांग ने दूल्हे को पहुंचाया थाने, दुल्हन ने नहीं की शादी

उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद में एक दहेज लोभी दूल्हे और परिवार को दहेज मांगना उस समय भारी पड़ गया. जब दुल्हन पक्ष ने डायल 100 को बुलाकर सबको थाने पहुँचा दिया जी हां तजा मामला उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद है.

ये जो महाशय दूल्हे की शेरवानी पहने थाना मूंढापांडे परिसर में बैठे हैं. इनका नाम गौतम शर्मा हैं, और ये ठाकुरद्वारा क्षेत्र के मढ़पुरी के रहने वाले हैं. इनकी शादी मूंढापांडे क्षेत्र के इलर रसूलाबाद निवासी नेमीचंद शर्मा की बेटी सरिता से होनी थी. रिश्ता दो ढाई महीने पूर्व तय हो गया था ,और सगाई में इन दूल्हे मियां की मांग के अनुसार बुलेट मोटर साइकिल के साथ साथ अन्य सामान भी दिया गया था.

शादी शनिवार को होनी थी ,बारात भी समय से पहुँची और लड़की पक्ष ने क्षमता के अनुसार तैयारी भी की हुई थी. दरअसल मामला उस समय बिगड़ा, जब जयमाला से ठीक पहले दूल्हा पक्ष के लोगो ने लकड़ी पक्ष से पाच लाख रुपये दहेज में मांग लिए. जिसे सुनकर लड़की पक्ष के होश उड़ गए , एन मोके पर पांच लाख की डिमांड से सन्न लड़की पक्ष ने अपनी मजबूरियां गिनाई लेकिन दहेज के लालची लड़का पक्ष ने बिना पैसे लिए शादी करने से ही मना कर दिया. आखिरकार दुल्हन सरिता सबके सामने आई और ऐसे दहेजलोभी व्यक्ति से शादी करने से मना कर दिया ,और परिवार की राय करते हुए डायल 100 को फोन करके पुलिस बुला ली.

पुलिस को देख दूल्हे मिया के होश उड़ गए. क्योकि उसने कभी सपने में भी नही सोचा होगा कि उसे अपनी शादी के दिन थाने जाना पड़ेगा, लड़की के पिता नेमीचंद शर्मा के अनुसार ऐसे लोगो के लिए सजा होनी चाहिए जो शादी के ऐसे मौके पर दहेज की मांग करते हैं जब एक लड़की का बेबस बाप कुछ भी करने की स्थिति में नही होता. शादी के दिन दूल्हे सहित थाने में बारात को देख लोगो के मुहँ से अनायास ही निकल पड़ा कि दहेज मांगने वालों के लिए ये सही जगह है.

Tags:    

नवीनतम

Share it
Top