Breaking News
Home > मुरादाबाद: नगरनिगम की लापरवाही ने ली ,दो साल के मासूम की जान

मुरादाबाद: नगरनिगम की लापरवाही ने ली ,दो साल के मासूम की जान

 शिव कुमार मिश्र |  2018-02-18 03:38:19.0  |  मुरादाबाद

मुरादाबाद: नगरनिगम की लापरवाही ने ली ,दो साल के मासूम की जान

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद को स्मार्ट सिटी में शामिल कराने के प्रयास में लगी योगी सरकार के ऊपर आज मझोला क्षेत्र की एकता कालोनी में उस समय कलंक लग गया. जब एक दो साल के मासूम की उसके घर के सामने भरे पानी में डूब कर दुःखद मौत हो गई. जिसके बाद क्षेत्र में मातम छा गया .

पिछले दो साल से उत्तर प्रदेश के कई शहरों को स्मार्ट सिटी बंनाने की कवायद चल रही हैं. जिसके लिए केंद्र सरकार दुवारा बजट भी जारी किया जा चुका हैं. इसी कड़ी में मुरादाबाद को भी जोड़ा गया हैं. सरकारे भले ही कितने दावे क्यों ना कर ले. धरातल पर आज भी मुरादाबाद में लोग नरकीय जीवन जीने को मजबूर हैं. इसकी पोल आज उस समय खुल गई जब थाना मझोला क्षेत्र की एकता कालोनी से एक परिवार की मातम भरी रोने-बिलखने की आवाजो ने क्षेत्र के लोगो में खलबली मचा दी. आज सुबह एकता कालोनी निवासी प्रमोद का दो वर्षीय बेटा अभिषेक खेलता हुआ घर के आगे चला गया, और वहाँ भरे पानी के 6-7 फिट गहरे उस गड्ढे जा गिरा. जिनमे मोहल्ले का गंदा पानी जमा हो रहा हैं. उसके परिजन अपने घर के काम में लगे रहे ,जब कुछ देर बाद उन्हें अपने बेटे अभिषेक की याद आई तो उनके होश उस समय उड़ गए. जब उन्हें उनके दिल के टुकडे को पानी के गहरे गड्ढे में पड़ा हुआ पाया. जल्दी से अभिषेक को पानी से निकाल कर इलाज के लिए लेकर अस्पताल की तरफ भागे. लेकिन उनके ऊपर उस समय दुख का पहाड़ टूट गया जब डॉक्टर ने उन्हें अभिषेक की मौत की खबर उन्हें दी, नालियों के भरे पानी में एक दो साल के बच्चे की मौत ने क्षेत्र के लोगो को हिला कर दिया.
घर के आंगन में अपने दिल के टुकड़े को जिंदा करने की दुहाई देती इस अभागी मां ने ये कभी नही सोच होगा कि जिसे वह सुबह दुलार रही थी अब उसकी लाश उसकी गोद में हैं, और वो भी मुरादाबाद नगर निगम की लापरवाही के चलते, क्योकि जिस पानी के गहरे गड्ढे में डूब कर अभिषेक की मौत हुई हैं वह सब नालियों का पानी हैं .

अभिषेक के पिता प्रमोद ने जानकारी देते हुए बताया कि वह तो घर से बाहर गया हुआ था. उसे फोन ने खबर दी गई. कि उनका बेटा पानी में डूब गया है. उसकी हालत बेहद नाजुक है. तुरंत ही वह घर पहुंचे तो होश उड़ गये.
सागर रस्तोगी की रिपोर्ट

Tags:    
Share it
Top