Home > लूट का खुलासा न होने से नाराज़ व्यापारी सड़कों पर उतरे,पुलिस को जमकर कोसा

लूट का खुलासा न होने से नाराज़ व्यापारी सड़कों पर उतरे,पुलिस को जमकर कोसा

 शिव कुमार मिश्र |  2018-02-16 03:34:52.0  |  दिल्ली

लूट का खुलासा न होने से नाराज़ व्यापारी सड़कों पर उतरे,पुलिस को जमकर कोसा

दस दिन पूर्व दिन दहाड़े सर्राफा व्यापारी से हुई करोड़ों की लूट के बाद कोई खुलासा न होने से नाराज़ व्यापारियों पुलिस की कार्यशैली पर गम्भीर आरोप लगाते हुऐ सड़कों पर उतर गऐ और एसडीएम के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भी भेजा।

एक तरफ़ जहाँ अपराधी योगी सरकार को बदनाम करने मे कोई कौर-कसर नही छोड़ रहें हैं तो दूसरी तरफ़ ख़ाकी का नाकारापन भी योगी सरकार के मुँह पर कालिख़ पोतने का काम कर रहा है।सर्राफा व्यापारी की आँखों मे मिर्च झोंककर करोड़ो रूपये के गहनों व नकदी से भरे बैगों को लूट ले जाने के दस दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली होने की वजह से व्यापारियों मे पुलिस के खिलाफ़ भारी नाराज़गी है।पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुऐ व्यापर मण्डल के बैनर तले स्थानीय व्यापारी सड़कों पर उतर आऐ। और एसडीएम के माध्यम से जिलाधिकारी व राज्यपाल को ज्ञापन भेजा। व्यापारी नेता व भाजपा नगर अध्यक्ष शिवेंद्र गुप्ता ने स्थानीय पुलिस पर गम्भीर आरोप लगाते हुऐ कहा कि पुलिस आज भी सपा व बसपा वाली मानसिकता के साथ काम कर रही है और पुलिस योगी सरकार को बदनाम कर रही है जिससे शासन स्तर पर अवगत कराया जाऐगा।
गौरतलब है की 6 फ़रवरी को नगर के सबसे व्यस्त क्षेत्र तिकोनिया बस स्टैंड पर अमृतसर निवासी सर्राफा व्यापारी अजीत सिँह बाबा को लगभग आधा दर्जन बदमाश ने गन प्वाइंट पर लेकर करोड़ो रूपये के सोने के आभूषणों व नकदी से भरा बैग लूट लिए थे और व्यापारी द्वारा पीछा करने पर आँखों मे मिर्च झोंककर इनोवा कार मे सवार होकर भाग गऐ थे। व्यापारियों का आरोप है कि पुलिस की खराब कार्यशैली के चलते बदमाशों के हौंसले बुलंद है जिसका परिणाम व्यापारी के साथ दिन दहाड़े हुई करोड़ो की लूट है।

Tags:    
Share it
Top