Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मुरादाबाद > आरटीआई एक्टिविस्ट हत्याकांड का खुलासा, सपा नेत्री सहित दो गिरफ्तार

आरटीआई एक्टिविस्ट हत्याकांड का खुलासा, सपा नेत्री सहित दो गिरफ्तार

जनपद मुरादाबाद के थाना पाकबड़ा क्षेत्र निवासी आरटीआई एक्टिविस्ट कासिम सेफी विगत 27 दिसम्बर को अचानक लापता हो गया था

 Special Coverage News |  16 Jan 2019 1:58 PM GMT  |  दिल्ली

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में आरटीआई एक्टिविस्ट हत्याकांड में फजीहत झेल रही योगी पुलिस ने आज एक महिला सहित दो आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए पूरे मामले का खुलासा कर दिया है. इस घटना का खुलासा आज मुरादाबाद पुलिस ने किया था.


जनपद मुरादाबाद के थाना पाकबड़ा क्षेत्र निवासी आरटीआई एक्टिविस्ट कासिम सेफी विगत 27 दिसम्बर को अचानक लापता हो गया था. कुछ दिन बाद लापता आरटीआई एक्टिविस्ट कासिम सेफी की डेड बॉडी जनपद शामली के जंगलों से बरामद की गई थी. जिसके बाद से मुरादाबाद पुलिस इस बड़े हत्याकांड में मुख्य आरोपियों को बचाने की फजीहत झेल रही थी.

पुलिस ने इस मामले में शूटर विकास चौधरी को गिरफ्तार कर पहले ही जेल भेज दिया था. लेकिन उसके बाद भी पीड़ित परिवार कासिम हत्याकांड से निराश था और बॉडी का अंतिम संस्कार करने के दो दिन बाद पूरा परिवार मृतक कासिम के फोटो लेकर अपने ही घर मे ही धरने पर बैठ गया था. जिसके बाद से मुरादाबाद पुलिस फजीहत झेल रही थी.

पुलिस ने आज इस मामले में सपा नेत्री अलका दुबे और कुलदीप नाम के हत्यारे को गिरफ्तार करते हुए पूरे हत्याकांड का खुलासा कर दिया हैं. पुलिस के अनुसार पाकबड़ा के पूर्व प्रधान हारून सैफी ने अलका दुबे की मदद से आरटीआई एक्टिविस्ट कासिम सैफी को मारने की सुपारी दी गई थी.

जिसके बाद मुख्य शूटर विकास चौधरी मृतक को अपने साथ लेकर जनपद शामली जा पहुँचा था. अपने साथी कुलदीप की मदद से उसे गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था. पूरे मामले का साज़िश कर्ता हारून सैफी विदेश भाग गया हैं. जिसके आने के बाद गिरफ्तार किया जायेगा.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it