Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मुज्जफरनगर > मुजफ्फरनगर : चीनी मिलों द्वारा किए गए मखौल पर भाकियू नेता गर्माए

मुजफ्फरनगर : चीनी मिलों द्वारा किए गए 'मखौल' पर भाकियू नेता गर्माए

भाकियू द्वारा कचहरी में शुगर मिलें चालू कराए जाने तथा बकाया गन्ना भुगतान कराने की मांग को लेकर..?

 Special Coverage News |  29 Oct 2018 11:57 AM GMT  |  दिल्ली

मुजफ्फरनगर : चीनी मिलों द्वारा किए गए मखौल पर भाकियू नेता गर्माए

शंकर शर्मा

मुजफ्फरनगर : जिला प्रशासन द्वारा कराए गए समझौते के अनुसार चीनी मिलों ने रविवार को इंडेंट तो जारी कर दिया, लेकिन कुछ मिलों द्वारा महज सैंकडों क्विंटल का इंडेंट जारी किए जाने को लेकर भारतीय किसान यूनियन के नेता गर्माते नजर आ रहे हैं। भाकियू नेताओं ने इस संबंध में आज प्रशासनिक अधिकारियों से वार्ता करने की बात कही है।

भाकियू द्वारा कचहरी में शुगर मिलें चालू कराए जाने तथा बकाया गन्ना भुगतान कराने की मांग को लेकर किए गए आंदोलन के चलते जिला प्रशासन ने भाकियू नेताओं व चीनी मिलों के अधिकारियों के साथ सामूहिक वार्ता कर रविवार को इंडेंट जारी करने तथा दीपावली से पूर्व किसानों को पर्याप्त गन्ना भुगतान करने के निर्देश दिए थे। कल चीनी मिलों द्वारा 19 हजार क्विंटल का इंडेंट जारी किया गया।

इसमें भैंसाना शुगर मिल ने 10 हजार तो मोरना शुगर मिल ने 7 हजार क्विंटल का इंडेंट जारी किया। बाकि की छह शुगर मिलों ने मात्र 2 हजार क्विंटल का ही इंडेंट जारी किया। बताया जा रहा है कि एक बडी शुगर मिल द्वारा तो कुल 100 कुंतल का ही इंडेट जारी किया गया। ऐसे में भाकियू नेताओं ने इसे किसानों के साथ मखौल करार दिया है।



भाकियू नेता तथा किसान समृद्धि आयोग के सदस्य धर्मेन्द्र मलिक ने कहा कि आज इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वार्ता की जाएगी। भाकियू जिलाध्यक्ष राजू अहलावत ने भी कहा कि इस मामले में भाकियू कडे कदम उठाएगी। आज शुगर मिलों द्वारा भुगतान के संबंध में भी स्थिति स्पष्ट किए जाने की संभावना है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top