Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मुज्जफरनगर > यूपी के गंगा खादर क्षेत्र में सैंकड़ों गाय के मरने से मचा हड़कंप

यूपी के गंगा खादर क्षेत्र में सैंकड़ों गाय के मरने से मचा हड़कंप

मजे कि बात तो यह है कि अधिकारी गण सीमा विवाद में उलझे हुऐ है. वही ग्रामीणों का ये कहना है कि जब खादर में शराब माफिया पकड़े जाते है तो वो गुडवर्क क्षेत्र का ही कहलाता है

 Special Coverage News |  10 Feb 2019 4:42 PM GMT

यूपी के गंगा खादर क्षेत्र में सैंकड़ों गाय के मरने से मचा हड़कंप

चरागाहों पर हुवे अतिक्रमण के कारण जंगली गाय भूखी मर गयी. जिसके उपरांत उनके मृत शरीर से उतपन्न वायरस के कारण बड़े स्तर पर गाय बीमार हो गयी गौ सेवकों ने मोरना के पशु चिकित्सकों से गायों की चिकित्सा की गुहार लगाई है. किन्तु सही समय पर चिकित्सा न मिलने पर बीमारी ने महामारी का रूप ले लिया.


मुज़फ्फरनगर के मोरना विकास खण्ड में लगातार गौमाता का भूख प्यास से मरना अब तक आम बात थी लेकिन आज फिर खादर क्षेत्र में सैकड़ों कि तादाद में गो वश का मरना एक बड़ी बात है. हम आप को बतादे कि अभी हाल ही में चार दिन पहले थाना भोपा के खाइखेड़ा ग्राम में गौशाला में 1 ट्रक भर कर गोवंश को छोड़कर चले गये थे. गौशाला में इंतेज़ाम न होने के कारण भूख प्यास से 14 गोवंश न तड़प तड़प कर जान दे दी. अभी इस मामले को कुछ समय भी नही बीता था. तभी आज मोरना विकास खण्ड के क्षेत्र में देशी पशु गाय सैकड़ो कि तादाद मे मृतक मिली.


जिनकी वजह से क्षेत्र वासियो में काफी आक्रोष है. लोगो का कहना था इतना बड़ी तादाद में गोवंशों का मरना अपने आप मे सवाल है. मजे कि बात तो यह है कि अधिकारी गण सीमा विवाद में उलझे हुऐ है. वही ग्रामीणों का ये कहना है कि जब खादर में शराब माफिया पकड़े जाते है तो वो गुडवर्क क्षेत्र का ही कहलाता है. आज इतने बड़े गोवंश कि मौतों का कोई सुध नही लेने वाला है. जबकि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गायों को लेकर स्पष्ट निर्देश दे रखे है फिर भी यह हाल बना हुआ है.

डॉ जोली

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top