Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > नोएडा में गांजा तस्करों की भरमार पुलिस के हत्थे चढ़ा एक

नोएडा में गांजा तस्करों की भरमार पुलिस के हत्थे चढ़ा एक

 Special Coverage News |  2018-10-17 12:39:28.0  |  नॉएडा

नोएडा में गांजा तस्करों की भरमार पुलिस के हत्थे चढ़ा एक

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। नोएडा शहर हाईटक शहरों में शुमार है।यहा नौकरी के लिए कई प्रदेशों से बेरोजगार युवक युवतिया आते है। कुछ को नोकरी मिल जाती है कुछ रह जाते है।नौकरी न मिलने के कारण अधिकंश लोग गलत संगत में पड़ कर नशा करने लगते है। जिसका फायदा उठा कर अवैध नशा कारोबारी की चांदी हो जाती है। नोएडा में गांजा तस्करों का अवैध धंधा फल फूल रहा है पर पुलिस इन पर अंकुश लगाने में विफल होती नजर आ रही है।


गांजा तस्करों ने अपना अवैध कारोबार एक जगह न करके पूरे नोएडा में फैला रखा है। फिर भी पुलिस इनपर कोइ कारवाई नही करती है। जब पुलिस पर दवाब होता है तो पुलिस खाना पूर्ति के लिए दबिश देती है। एक दो लोगों को पकड़ कर मामूली धारा लगा कर कारवाई की जाती है। मुख्य आरोपी या सरगना को पहली ही सुचना दे दी जाती है। वो मौके से फरार हो जाते है। अब सोचना ये है कि उन्हे सूचना कौन देता है। सूत्रों की माने तो पुलिस की मिली भगत से ही सारा काम होता है।नोएडा के कई थाना क्षेत्रों में गांजा तस्कर फल फूल रहे है। ताजा मामला ये है कि नोएडा पुलिस के उपर कुछ दिनों से काफी दवाब था।

ताजा मामला ये है कि पुलिस के

हाथ ऐसा ही गिरोह लगा है जो दिल्ली से अवैध शराब ,गाँजा आदि नशीले पदार्थ नोएडा में ला कर सप्लाई किया करते थे।वही इस गिरोह को चलाने वाली एक महिला है जिसका नाम नूरी है जो नोएडा में नशे के कारोबार में काफी चर्चित मानी जाती रही है और इसे पहले भी कई बार जेल भेजा जा चुका है।फिलहाल पुलिस ने सरगना समेत 2 महिला और 3 पुरुषों को गिरफ्तार किया है जिनके पास से तकरीबन 1.5 लाख रुपये नगद ,8 किलो अवैध गाँजा बरामद किया है।


मामला ये है कि पुलिस को मुखबीर से सुचना मिली थी कि सैक्टर-9 स्थित पार्क के पास दो महिला व पांच गांजा तस्कर घूम रहे है। मौके पर पहुची पुलिस ने सभी आरोपियों नरी,मंजू,सब्बीर,ओम और मोहित को गिरफ्तार किया। पकड़े गयी महिलाएं और पुरुष बेहद ही शातिर किस्म के अवैध नशे के कारोबारी हैं जो नोएडा के कई क्षेत्रों में ठिकाना बना कर अवैध नशीले पदार्थों को बेचा करते थे। वही पुलिस अधिकारियों का कहना है कि नूरी गैंग की सरगना है। आरोपी दिल्ली से गांजा खरीद कर लाते है। उसके बाद नूरी और अन्य लोग इसे नोएडा में अलग अलग ठिकानों पर बेचा करते थे।इन लोगों ने मोबाइल के जरिये भी अपना जाल बिछा रखा था और अधिकतर इनके ग्राहक रिक्शे , टेम्पो वाले और बाहर से पड़ने वाले छात्र थे।


वहीं इनके साथ साथ कुछ अपराधी भी इनसे नशीले पदार्थ खरीदा करते थे। ये लोग गाँजे की पुड़िया के रेट 50 रुपये से 220 रुपये तक रखा करते थे फिर जैसा ग्राहक वैसा रेट।फिलहाल पुलिस दिल्ली में भी जानकारी कर रही है कि ये लोग किन लोगों से मादक पदार्थ खरीदा करते थे। आस पास के लोगों का कहना है कि ये कारवाई दवाब में हुयी है। जब से बजरंग दल के कार्यकर्ता की मौत हुयी है पुलिस दवाब में है इसलिए ये कारवाई हुयी नही तो ये लोग खुलेअाम आरोप लगाते हैं कि सेक्टर 20 कोतवाली के कुछ पुलिस कर्मी इसे संरक्षण दिया करते थे ।

Tags:    
Share it
Top