Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > करोड़ों रुपए की ठगी करने वाली बाइक बोट कंपनी का निदेशक नोएडा पुलिस ने किया गिरफ्तार

करोड़ों रुपए की ठगी करने वाली बाइक बोट कंपनी का निदेशक नोएडा पुलिस ने किया गिरफ्तार

इस कंपनी का मुख्य कर्ता-धर्ता संजय भाटी सहित 50 आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं। इस घोटाले में यह पहली गिरफ्तारी है।

 Special Coverage News |  6 Jun 2019 2:43 PM GMT  |  दिल्ली

करोड़ों रुपए की ठगी करने वाली बाइक बोट कंपनी का निदेशक नोएडा पुलिस ने किया गिरफ्तार
x

नोएडा पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने गुरुवार को बाइक टैक्सी चलाने के नाम पर देश के करीब तीन लाख लोगों से 10 हजार करोड़ से ज्यादा की ठगी करने के मामले में फरार चल रहे बाइक बोट कंपनी के एक निदेशक को गिरफ्तार कर लिया है। इस कंपनी का मुख्य कर्ता-धर्ता संजय भाटी सहित 50 आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं। इस घोटाले में यह पहली गिरफ्तारी है। मामले की जांच कर रहे प्रभारी निरीक्षक शैलेश कुमार व उनकी टीम ने गुरूवार को मेरठ से इस कंपनी के एक निदेशक विजयपाल कसाना को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक (अपराध) अशोक कुमार सिंह ने बताया कि गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स लिमिटेड (बाइक बोट) के नाम से संजय भाटी व उसके अन्य साथियों ने एक बाइक टैक्सी चलाने की कंपनी शुरू की। इन लोगों ने करीब 200% मुनाफा कमाने का लालच देकर प्रति बाइक के नाम पर 62,100 रुपये निवेश करवाया, तथा उसके एवज में इन लोगों ने उन्हें 9,765 रुपए प्रतिमाह के हिसाब से 12 महीने तक देने का वादा किया।

देशभर में 500 से ज्यादा मामले दर्ज

न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, एसपी ने बताया कि उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, बिहार, मध्य प्रदेश, सहित देश के कई राज्यों से करीब तीन लाख निवेशकों ने इस कंपनी में पैसे लगाए। जब कंपनी के मालिक संजय भाटी, सचिन भाटी, पवन भाटी, आदेश भाटी, राजेश भारद्वाज, करण पाल, दीप्ति बहल, विजयपाल कसाना, आदि ने निवेशकों से करीब 10 हजार करोड़ रुपये इकट्ठा कर लिए तो वे उन्हें धोखा देकर फरार हो गए। उन्होंने बताया कि इस ठग कंपनी में 51 लोग शामिल हैं। इस मामले में नोएडा में 33 मुकदमे दर्ज हैं, जबकि देश के विभिन्न जगहों पर 500 से ज्यादा मामले अब तक दर्ज हो चुके हैं।

एसएसपी ने बताया कि विजयपाल को मेरठ में कल एक सड़क हादसे में चोट लग गई थी। जिसके बाद उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस बात की सूचना मिलते ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया। एसपी ने बताया कि विजयपाल से पूछताछ के दौरान कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिली है। उन्होंने बताया कि इससे की गई पूछताछ के आधार पर कुछ अन्य आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

वहीं बाइक बोट कंपनी के मालिक संजय भाटी की गिरफ्तारी नहीं होने से नाराज सैकड़ों निवेशक कोट गांव के पास स्थित बाइक बोट कंपनी के मुख्यालय के बाहर तीन दिन से अनिश्चितकाल धरने पर बैठे हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it