Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर ठ़गी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, युवकों से लेते थे 30 हजार से डेढ़ लाख रुपये

विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर ठ़गी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, युवकों से लेते थे 30 हजार से डेढ़ लाख रुपये

 Sujeet Kumar Gupta |  30 Jan 2020 4:18 AM GMT  |  नई दिल्ली

विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर ठ़गी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, युवकों से लेते थे 30 हजार से डेढ़ लाख रुपये
x

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा। अपराधियों पर निरंतर अंकुश लगाने वाली नोएडा पुलिस को एक बड़ी सफलता उस वक्त मिली जब पुलिस ने विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर ठ़गी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया। गिरोह के सदस्य दिल्ली,पश्चिम बंगाल,बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के रहने वाले युवकों को विज्ञापन देकर लुभाते थे। आपको बता दे कि पुलिस आयुक्त के निर्देश पर जिले के सभी थाना क्षेत्रों में अपराधियों की धड़ पकड़ की जा रही है। इसी क्रम में थाना प्रभारी सैक्टर-20 के नेतृत्व में पुलिस को पता चला कि थाना क्षेत्र में स्थित एफ ब्लॉक सैक्टर-3 में फिरोज इंटरप्राइजेज ट्रैवेल्स एंड कंसल्टेंसी कंपनी में विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से ठ़गी की जाती है।

आपको बता दे कि इस कंपनी ने करीब 200 युवाओं के विदेश में नौकरी दिलाने का सपनों दिखाया था। इसका पता जब लगा जब कुछ युवकों ने इसकी शिकायत थाने में की।पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस के अनुसार,ठगी के शिकार युवकों ने बताया है कि सेक्टर-3 एफ ब्लॉक में फिरोज इंटरप्राइजेज ट्रैवेल्स एंड कंसल्टेंसी कंपनी ने कुछ समय पहले सोशल मीडिया पर विज्ञापन डाला था। उसमें दुबई, ओमान, मलएशिया, मालदीव जैसी जगहों पर नौकरी का झांसा दिया गया था। यहां पर कंस्ट्रक्शन कंपनियों में नौकरी की बात कही गई थी।नौकरी के इच्छुक युवकों को महिला कर्मचारियों से फोन करवाए।

इन्होंने युवकों को बातों के जाल में फंसाकर 5 से 10 हजार रुपये फाइल चार्ज के रूप में ऐंठ लिए। इसके बाद उन्हें नोएडा ऑफिस में इंटरव्यू के बहाने बुलाकर सिलेक्ट बताकर काम के हिसाब से 30 हजार रुपये से लेकर डेढ़ लाख रुपये तक ले लिए। उन्हें बताया गया कि यह रकम पासपोर्ट,वीजा और हवाई टिकट के लिए ली गई है। ठगी का शिकार हुए सिवान (बिहार) निवासी विकास ने बताया कि उन्हें बुधवार को ओमान के लिए दिल्ली से फ्लाइट पकड़नी थी।

वहां उन्हें इलेक्ट्रिशियन की नौकरी का जॉइनिंग लेटर दिया गया था। कुछ लड़के चेन्नै भी गए थे। लेकिन,एयरपोर्ट पहुंचकर उन्हें पता चला कि टिकट रद्द करा दी गई है। वीजा भी फर्जी थे। इसके बाद दिल्ली एयरपोर्ट से नोएडा में वह कंपनी के ऑफिस आए,जहां पर ताला था।इसके बाद करीब 100 युवक सेक्टर 20 थाने पहुंचे और शिकायत दी। पुलिस ने ऑफिस में काम करने वाली एक रिसेप्शनिस्ट समेत 3 लोगों को हिरासत में लिया है।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it