Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > राहुल गांधी के करीबी काग्रेंसी नेता वीरेंद्र सिंह गुड्डू के खिलाफ मुकदमा दर्ज

राहुल गांधी के करीबी काग्रेंसी नेता वीरेंद्र सिंह गुड्डू के खिलाफ मुकदमा दर्ज

 Shiv Kumar Mishra |  7 July 2020 11:54 AM GMT  |  नोएडा

राहुल गांधी के करीबी काग्रेंसी नेता वीरेंद्र सिंह गुड्डू के खिलाफ मुकदमा दर्ज
x

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। उत्तर प्रदेश में काग्रेंस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के बाद एक ओर काग्रेंसी नेता हुयी एफआईआर।आपको बता दे कि राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले वीरेंद्र सिंह गुड्डू के खिलाफ ग्रेटर नोएडा के बीटा-2 कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है। वीरेंद्र सिंह गुड्डू वर्तमान में उत्तर प्रदेश कांग्रेस के महासचिव है।

बताते चले कि पूरा मामला कुछ इस प्रकार है। दिल्ली के एक कपड़ा व्यापारी ने गुड्डू समेत 7 लोगों के खिलाफ जमीन फर्जीवाड़े का आरोप लगाया है। बीटा-2 कोतवाली पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। हालांकि वीरेंद्र सिंह गुड्डू ने मामले को राजनीतिक साजिश बताया है।जानकारी के अनुसार योगेश गुप्ता ग्रेटर कैलाश पार्ट-2 नई दिल्ली के निवासी हैं।जिनका चांदनी चौक दिल्ली में कपड़े का व्यापार है।योगेश गुप्ता ने कोर्ट में की शिकायत में कहा है कि वीरेंद्र सिंह गुड्डू ने अपने साथी परमिंदर भाटी निवासी लुक्सर से मिलवाया था।

जिसके बाद उन्होंने लुक्सर में अपनी कुछ कृषि भूमि को उन्हें बेचा था। इस पूरे मामले में वीरेंद्र सिंह गुड्डू के अन्य साथी फिरे, अरविंद, प्रदीप सिंह, महकार सिंह, व सोनू भाटी भी शामिल थे। उक्त लोगों ने खरीदी गई प्रॉपर्टी की चारदीवारी के नाम पर भी पीड़ित से काफी मोटी रकम वसूली थी। वहीं बाद में उस प्रॉपर्टी मोटे मुनाफे के लिए किसी अन्य व्यक्ति को भी बेच दिया था। पीडित का कहना है कि उसने खरीदी प्रॉपर्टी की रकम भी उन्हें बैंक के माध्यम से भेजी थी। जिसके रिकार्ड आज भी उनके पास उपलब्ध हैं।

इस संबंध में कांग्रेस प्रदेश महासचिव वीरेंद्र सिंह गुड्डू का कहना है कि उनके खिलाफ यह राजनीतिक साजिश की गई है। क्योंकि वो पूरे जोर शोर से सत्ता के खिलाफ आवाज बुलंद करने में लगे हैं। ऐसे में सत्ता में बैठे लोग बे वजह उनके ऊपर कीचड उछालने का काम कर रहे हैं। उनका इस पूरे मामले से कोई लेना देना नहीं है। वहीं इस पूरे प्रकरण में कहीं भी उनकी कोई संलिप्तता या फिर हस्ताक्षर आदि नहीं है। लेकिन फिर भी उन्हें निशाना बनाया गया है। लेकिन वो इसका जवाब कोर्ट में भी मजबूती के साथ देंगे। जिसके लिए वो अपने वकीलों से बात कर रहे हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it