Top
Begin typing your search...

कोर्ट के आदेश पर कुख्यात सुंदर भाटी के भाई समेत 7 लोगों पर मुकदमा दर्ज

कोर्ट के आदेश पर कुख्यात सुंदर भाटी के भाई समेत 7 लोगों पर मुकदमा दर्ज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

(1)जेवर विधानसभा की पूर्व प्रत्याशी बेवन नागर ने कोर्ट में की याचिका दायर

(2)बेवन नागर ने आरोपियों पर धमकी देने और फायरिंग करने का भी आरोप लगाया

(3)कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके की मामले की जांच

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा। गौतमबुद्ध नगर जिला कोर्ट के आदेश पर कासना कोतवाली में कुख्यात सुंदर भाटी के भाई समेत 7 लोगों पर जानलेवा हमला और धमकी देने के मामले में मुकदमा दर्ज हुआ है।इस मामले में समाजवादी पार्टी से जेवर विधानसभा की पूर्व प्रत्याशी बेवन नागर ने कोर्ट में याचिका दायर की है।बेवन नागर ने आरोपियों पर धमकी देने और फायरिंग करने का भी आरोप लगाया है।

ग्रेटर नोएडा की कासना कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक जिला न्यायालय के आदेश पर कुख्यात सुंदर भाटी के भाई सहदेव भाटी, रवि भाटी, मनोज नागर, नवीन भाटी समेत 7 लोगों के खिलाफ जानलेवा हमला और धमकी देने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। इस मामले में दादूपुर गांव की रहने वाली सपा से जेवर विधानसभा की पूर्व प्रत्याशी बेवन नागर ने कोर्ट में याचिका दायर की थी।

बेवन नागर ने कोर्ट को बताया कि 8 फरवरी को वह अपने गांव से ग्रेटर नोएडा लौट रही थी। कासना कोतवाली क्षेत्र में एशियन पेंट्स कंपनी के समीप एक गाड़ी में सवार लोगों ने उसे रोक लिया था। पीड़िता ने बताया कि गाड़ी में कुख्यात सुंदर भाटी का भाई और उसके साथी सवार थे।इन लोगों ने धमकी दी कि उसके पति की हत्या के मुकदमे में यदि उसके जेठ ने कोर्ट में गवाही दी तो उसे और उसके जेठ को जान से मार देंगे।

पीड़िता ने कोर्ट को बताया कि वर्ष 2015 में कुख्यात सुंदर भाटी ने उसके पति हरेंद्र नागर की हत्या करवा दी थी।जिसमें उसके जेठ रवि गवाह है। इस मुकदमे में कोर्ट में गवाही चल रही है।बेवन का आरोप है कि आरोपियों ने उनकी गाड़ी पर फायरिंग भी की थी।

पीड़िता की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कासना कोतवाली पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए थे।पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it