Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > नोएडा में जिलाधिकारी ने पेश की कोरोना वायरस पर अंकुश लगाने की कार्य योजना

नोएडा में जिलाधिकारी ने पेश की कोरोना वायरस पर अंकुश लगाने की कार्य योजना

 Shiv Kumar Mishra |  3 April 2020 3:57 AM GMT  |  नोएडा

नोएडा में जिलाधिकारी ने पेश की कोरोना वायरस पर अंकुश लगाने की कार्य योजना

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा।कोरोना वायरस पर अंकुश ना लग पाने की वजह से शासन ने गौतमबुद्ध नगर में जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्सा अधिकारी को बदल नये अधिकारियों की तैनाती कर नया प्रयोग करने की कौशिश की है।आज गुरुवार को नवागत जिलाधिकारी सुहास एलवाई और मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एपी चतुर्वेदी ने नोएडा के सेक्टर-6 इंदिरा गांधी कला केंद्र में प्रेस कॉन्फ्रेंस की।दोनों अधिकारियों ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए अपनी कार्य योजना पेश की है।

जिसमें मुख्य रूप से 6 जानकारी दी गई हैं।पहली जानकारी में डेडिकेटेड डॉक्टरों की नियुक्ति करने की बात कही।जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने बताया कि अब तक जिन हाउसिंग सोसायटी और गांवों में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज पाए गए हैं,उन सभी आवासीय परिसरों में एक-एक डॉक्टर की नियुक्ति कर दी गई है।यह डॉक्टर वहां की स्वास्थ्य सुविधाओं और जरूरतों पर नजर रखेंगे।किसी भी तरह की नई परेशानी होने पर तत्काल जिला प्रशासन और सरकार को सूचना देंगे।दूसरा पूरे जिले का एक अत्याधुनिक कंट्रोल रूम होगा।एक अत्याधुनिक नियंत्रण कक्ष पूरे जिले के लिए स्थापित किया जा रहा है, जो अगले 48 घंटे के भीतर स्थापित कर दिया जाएगा और काम करने लगेगा।

इस नियंत्रण कक्ष में विशेषज्ञ, चिकित्सकों और विभागों के अधिकारियों की नियुक्ति की जाएगी। जो कॉलर को सारी जानकारियां और सूचनाएं देने में सक्षम होंगे।अभी तक जिलेभर में अलग-अलग चल रहे कॉल सेंटर के सापेक्ष यह एकीकृत नियंत्रण कक्ष स्थापित कर दिया जाएगा। जिससे लोगों को किसी भी तरह की भ्रांति नहीं होगी।तीसरा श्रमिकों को पैसा भेजा गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि गौतम बुद्ध नगर के श्रम विभाग में रजिस्टर्ड 11,853 मजदूरों को एक-एक हजार रुपये उनके खाते में भेज दिए गए हैं।

इस धनराशि से वह अपनी दैनिक उपयोग की वस्तुएं और राशन खरीद सकते हैं।चौथा बचे हुये जरूरतमंदों को चिन्हित किया जा रहा है।डीएम ने बताया कि अभी और लोगों को भी चिन्हित किया जा रहा है, जो जरूरतमंद हैं।जिनमें ऑटो, रिक्शा चालक और मजदूर वर्ग के लोग शामिल हैं।इन्हें भी धनराशि मुहैया करवाई जाएगी।

पांचवा मनरेगा कामगारों को भेजी गयी

सहायता।गौतम बुद्ध नगर में 1076 कामगार महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना में रजिस्टर्ड हैं। इन लोगों के बैंक अकाउंट में भी ₹1000 ट्रांसफर कर दिए गए हैं। छठा 14 रेस्पॉन्स टीम बनायी गयी।डीएम ने बताया कि कोरोना वायरस से संबंधित कोई भी सूचना अथवा लक्षणों वाला व्यक्ति मिलने पर तत्काल रिस्पांस करने के लिए 14 रैपिड रिस्पांस टीम बनाई गई हैं।

इन रैपिड रिस्पांस टीम में डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ और पुलिस कर्मियों को शामिल किया गया है।प्रत्येक टीम के पास अलग-अलग एंबुलेंस होंगी।जैसे ही सूचना मिलेगी उस इलाके की निकटवर्ती टीम तत्काल पहुंच जाएगी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it