Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > साइबर हनी ट्रैप में फंसा BSF का जवान, यूपी ATS ने जासूसी के आरोप में दबोचा

साइबर हनी ट्रैप में फंसा BSF का जवान, यूपी ATS ने जासूसी के आरोप में दबोचा

ISI लड़कियों की फेसबुक आईडी बना फिर भारतीय सेना और सशस्त्र बलों के जवानों से मित्रता कर अपने जाल में फंसा कर जासूसी करा रही है.

 Arun Mishra |  2018-09-19T14:00:39+05:30  |  दिल्ली

साइबर हनी ट्रैप में फंसा BSF का जवान, यूपी ATS ने जासूसी के आरोप में दबोचा

नोएडा : पाकिस्तानी आईएसआई पिछले कुछ समय से लड़कियों की फेसबुक आईडी बना फिर भारतीय सेना और सशस्त्र बलों के जवानों से मित्रता कर अपने जाल में फंसा कर जासूसी करा रही है.

बीएसएफ जवान अच्युतानंद मिश्रा पर विदेशी खुफिया एजेंसी को गुप्त सूचनाएं देने का आरोप है. कहा जा रहा है कि बीएसएफ जवान सोशल मीडिया पर मिस्र की महिला द्वारा हनीट्रैप का शिकार हुआ. उसके बाद वह विदेशी एजेंसियों को सेना की खुफिया जानकारी देने लगा. गिरफ्तार जवान पाकिस्तान के नंबर पर लगातार महिला से बात कर रहा था. मिस्र की महिला जासूस ने खुद को सेना की रिपोर्टर बताकर उसे फंसाया था.

डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि गिरफ्तार जवान ने पूछताछ में इस बात को स्वीकारी है कि उसने महिला के फेक आईडी पर चैट के माध्यम से सेना की खुफिया जानकारी के साथ नक्शे और कुछ दस्तावेज आईएसआई को दिए हैं. गिरफ्तार जवान के खिलाफ सुरक्षा गोपनीयता एक्ट की धारा 3, 4, 5 और 9, 121ए व इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.

डीजीपी ने बताया कि एटीएस बात में जुटी है कि कहीं इसके लिए पैसों का लेनदेन तो नहीं हुआ. साथ ही यह भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कहीं और भी जवान इस महिला के शिकार तो नहीं हुए हैं.

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top