Top
Begin typing your search...

लोजपा सांसद के बेटे की मौत, खबर सुनकर पूर्व सांसद सूरजभान सिंह रो पड़े

लोजपा सांसद के बेटे की मौत, खबर सुनकर पूर्व सांसद सूरजभान सिंह रो पड़े
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: बिहार के मुंगेर लोकसभा क्षेत्र से लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) सांसद वीणा देवी और पूर्व सांसद सूरजभान सिंह के बेटे आशुतोष सिंह का शनिवार तडक़े एक्सप्रेसवे पर सडक़ हादसे में मौत हो गई। हादसा सेक्टर 135 जेपी अस्पताल कट के पास शनिवार तडक़े 4 बजे करीब हुआ था। आशंका है कि कार की गति करीब 140-150 किमी प्रति घंटा रही होगी है।


आशुतोष को नींद की झपकी आने पर डिवाइडर से टकराने के बाद कार कई राउंड पलटी खाई है। करीब 50-60 मीटर दूर जाकर कार रूक गई। मृतक के जेब में मिले ग्रेटर नोएडा स्थित शारदा विश्वविद्यालय के आईकार्ड से उसकी पहचान हो पाई। घटना के समय आशुतोष सिंह दिल्ली के वेदांता अस्पताल में भर्ती अपनी मां वीणा देवी से मिलने जा रहे थे। उनकी मां हार्ट की मरीज हैं जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। सूचना पर पहुंची कोतवाली एक्सप्रेसवे पुलिस घायल को लेकर जेपी अस्पताल पहुंची। जहां डॉक्टर ने जांच के बाद छात्र को मृत घोषित कर दिया।

तेज रफ्तार कार डिवाइडर से टकराने के बाद कई राउंड पलटी

सीओ प्रथम अवनीश कुमार ने बताया कि आशंका है कि कार की गति करीब 140-150 किमी प्रति घंटा रही होगी है। आशुतोष को नींद की झपकी आने पर डिवाइडर से टकराने के बाद कार कई राउंड पलटी खाई है। करीब 50-60 मीटर दूर जाकर कार रूक गई। कार की बॉडी के टुकड़े भी सडक़ पर बिखरे मिले। हादसे की सूचना पाकर चम्पारन जिले के लोजपा विधायक राजू तिवारी समेत पार्टी के कई नेता पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे। साथ ही सूरजभान के कई पड़ोसी और समर्थक मौके पर उपस्थित रहे।

दोस्त बोले साथ चले लेकिन कर दिया था मना

पोस्टमार्टम हाउस पर आशुतोष के कॉलेज के कई दोस्त भी पहुंचे थे। सभी बहुत गमगीन थे। बातचीत के दौरान दोस्तों ने बताया कि तडक़े जब वह जा रहा था। उस समय उन लोगों ने आशुतोष से साथ चलने की इच्छा जताई। इस पर आशुतोष ने कहा कि बस कुछ देर में मां मिलकर वापस लौटता हूं। तुम लोग रहने दो।

चाटर्ड प्लेन से ले गए शव को

आशुतोष के मौत की सूचना मिलते ही परिजनों में शोक की लहर दौड़ गई। परिजन और परिचित दिल्ली से जेपी अस्पताल पहुंचे। पुलिस ने शव का पंचनामा भर कर सेक्टर 94 स्थित पोस्टमार्टम हाउस भेजा। दोपहर करीब 1 बजे शव का डॉक्टरों ने पोस्टमार्टम किया और पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया। परिजन शाम 4 बजे चाटर्ड प्लेन से शव को लेकर गृह जिले मोकामा, पटना बिहार चले गये।

पुलिस अधिकारी ने बताया

सीओ प्रथम अवनीश कुमार ने बताया कि परिजन शव लेकर गृह जिले बिहार चले गये। परिजनों ने लिखित शिकायत देते हुए इसे दुर्घटना बताया है और किसी भी तरह की कानूनी कार्रवाई से इंकार किया है।

Special Coverage News
Next Story
Share it