Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > फर्जी आधार कार्ड एवं शैक्षिक कागजात तैयार करने वाले गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश

फर्जी आधार कार्ड एवं शैक्षिक कागजात तैयार करने वाले गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश

वो अवैध मशीन लगाकर फर्जी तरीके से आम जनता के बिना किसी प्रूफ के आधार कार्ड बनाना व प्रत्येक आधार कार्ड के बदले मे 800 रुपये जनता से अवैध रुप से ठगना तथा भोली भाली जनता को अन्य शैक्षिक कागजात स्कैन कर डिटेल मे फेर बदल करना व अवैध धन अर्जित करते थे

 Sujeet Kumar Gupta |  27 Feb 2020 4:52 AM GMT  |  नई दिल्ली

फर्जी आधार कार्ड एवं शैक्षिक कागजात तैयार करने वाले गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश
x

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा।अपराध पर लगातार अंकुश लगाने वाली नोएडा पुलिस को उस वक्त एक बड़ी सफलता मिली जब पुलिस ने एक ऐसे गिरोह के चार सदस्यों को पकड़ा जो फर्जी आधार कार्ड एवं शैक्षिक कागजात तैयार करते थे।आपको बता दे कि पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के निर्देश पर जिले में अपराधियों के खिलाफ कारवाई की जा रही है।इसी क्रम में थाना फेस-3 प्रभारी देवेन्द्र सिंह के नेतृत्व में थाना पुलिस ने दिनांक 26.02.2020 को चैकिंग के दौरान छिजारसी कालोनी से चार अभियुक्तो को गिरफ्तार किया जो फर्जी आधार कार्ड एवं शैक्षिक कागजात तैयार करके भोली भाली जनता को बेवकूफ बनाते थे।

अभियुक्तों की पहचान सचिन पुत्र सतपाल निवासी छिजारसी कालोनी नोएडा ,शमशेर अली पुत्र मानू निवासी -85 /108 अणर पार्क जटवीरा दिल्ली ,विजय पुत्र उम्मेद निवासी ग्राम गढवाल थाना जैतपुर जिला बाह आगरा और सरवन हुसैन पुत्र उमर मौहम्मद निवासी ग्राम लुहारा थाना अंगौता जिला बुलन्दशहर के रूप में हुयी। जिनके कब्जे से दो लैपटाप चार्जर के साथ,दो प्रिन्टर,फिंगर स्केनर,एक आई स्केनर,बेव केन,जीपीएस डिबाइस,06 फर्जी मार्कशीट,16 आधार कार्ड, 21 पेन कार्ड,5 मोबाईल एन्ड्रायड एप्पल और 14400 रुपये नकद बरामद हुये।

पुछताछ में पता चला कि अभियुक्त शमशेर अली दिल्ली के ओरियन्टल बैंक शाखा सूरजमल विहार दिल्ली मे आधार कार्ड बनाने का कार्य करता था, जिसने उक्त बैंक से आधार कार्ड बनाने की मशीन बिना किसी अनुमति के अवैध तरीके से ले रखी थी व अपने अन्य साथियों सचिन,सरवर व विजय के साथ मिलकर छिजारसी कालोनी मे एसआरके कैफे नाम से एक दुकान चला रहे थे।जिसमें वो अवैध मशीन लगाकर फर्जी तरीके से आम जनता के बिना किसी प्रूफ के आधार कार्ड बनाना व प्रत्येक आधार कार्ड के बदले मे 800 रुपये जनता से अवैध रुप से ठगना तथा भोली भाली जनता को अन्य शैक्षिक कागजात स्कैन कर डिटेल मे फेर बदल करना व अवैध धन अर्जित करते थे।अभियुक्तों के खिलाफ मामला पंजीकृत करके पुलिस जांच कर रही है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it