Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > फर्जी लूट की सूचना देने वाले व्यक्ति को पुलिस ने किया गिरफ्तार,कब्जे से 2 लाख रूपये व मोटर साईकिल बरामद

फर्जी लूट की सूचना देने वाले व्यक्ति को पुलिस ने किया गिरफ्तार,कब्जे से 2 लाख रूपये व मोटर साईकिल बरामद

 Sujeet Kumar Gupta |  4 Feb 2020 11:11 AM GMT  |  नई दिल्ली

फर्जी लूट की सूचना देने वाले व्यक्ति को पुलिस ने किया गिरफ्तार,कब्जे से 2 लाख रूपये व मोटर साईकिल बरामद
x

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा। अपराध पर निंरतर लगाने वाली पुलिस को उस वक्त सफलता मिली जब पुलिस ने फर्जी लूट की सूचना देकर गुमराह वाले व्यक्ति को गिरफ्तार किया। आपको बता दे कि पुलिस आयुक्त के निर्देश पर अपराधियों के खिलाफ निरंतर कारवाई की जा रही है। इसी क्रम में पुलिस उपायुक्त राकेश कुमार के कुशल नेतृत्व में थाना दादरी के प्रभारी निरीक्षक दिनेश सिंह ने अपनी टीम उ.नि.देशपाल सिंह, उ.नि.राकेश बाबू,उ.नि.कृष्ण कुमार,विवेक कुमार,नितिन कुमार,विनय कुमार,बिजेन्द्र कुमार के साथ मिलकर फर्जी लूट की शिकायत करने वाले हसीन पुत्र इदरीश को गिरफ्तार किया।बताते चले कि नूर हसन पुत्र इदरीश निवासी रामपुर बांगर रबूपुरा ने दिनांक 4/02/2020 को थाना में एक लूट का मुकदमा लिखवाया था।जिसमें आरोप था कि उसके भाई हसीन से कुछ अज्ञात लोगों ने दो लाख रुपये व एक मोटर साइकिल लूट ली।

लेकिन जब टीम ने इस मामले में जाकर मौके पर जाँच की तो पता चला कि वादी के भाई हसीन पुत्र इदरीश पर करीब 9 से 10 लाख रूपये का कर्ज था।दिनांक 03/02/2020 को हसीन ने अपना एक प्लॉट 2 लाख रूपये में दादरी के रहने वाले आरिफ को बेचा था।हसीन को अंकाशा थी कि अगर कर्जदारों को इन पैसों के बारे में पता चल गया तो वो लोग हसीन पर पैसे देने का दवाब बनायेगें।इस वजह से हसीन ने दो लाख रूपये व अपनी मोटर साइकिल की चाबी अपनी बहन रुकसार को दे दी।उसके बाद ये खबर फैला दी कुछ अज्ञात लोगों ने मुझको तमंचा दिखाकर मेरे

पैसे व मोटर साइकिल लूट ली।मामला संदिग्ध दिखने पर पुलिस ने हसीन से पुछताछ की तो पता चला कि हसीन ने कर्जदारों से बचने के लिए पैसे और मोटर साइकिल की चाबी अपनी बहन को दी थी।पुलिस ने हसीन की निशादेही पर लूटे गये 2 लाख रूपये उसकी बहन रूकसार से बरामद कर लिये है।पुलिस पुछताछ में रूकसार ने बताया कि ये पैसे मेरा भाई मुझे रखने के लिए दे गया था।मुझे नही मालूम उसने झूठी सूचना क्यो दी है।वादी से भी पूछताछ की गयी तो वादी ने बताया कि मेरे भाई ने मुझे झूठी सूचना बतायी थी।वादी के भाई द्वारा षडयन्त्र रचकर के कर्जदारो के पैसे ना वापस करने पडे लूट की झूठी सूचना पुलिस को दे दी।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it