Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > कमिश्रर आलोक सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने एक माह में 154 अपराधियों पर कसी नकेल

कमिश्रर आलोक सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने एक माह में 154 अपराधियों पर कसी नकेल

 Sujeet Kumar Gupta |  17 Feb 2020 3:07 PM GMT  |  नई दिल्ली

कमिश्रर आलोक सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने एक माह में 154 अपराधियों पर कसी नकेल

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा।गौतमबुद्धनगर में कमिश्रर सिस्टम लागू हुये करीब एक महीना हो चुका है।इस एक महीने में पुलिस आयुक्त के निर्देश पर जिले से अपराध को जड़ से खत्म करने के पुलिस निरंतर अपराधियों की धड़ पकड़ कर रही है।जिससे अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस को काफी मदद भी मिल रही है।अगर हम बात करे जिले के पुलिस आयुक्त की तो अलीगढ़ के रहने वाले आलोक सिंह भारतीय पुलिस सेवा के 1995 बैच के ऐसे तेज तर्रार और ईमानदार आईपीएस अधिकारी है।जो भ्रष्‍टाचार के खिलाफ सख्‍त कदम उठाने के लिए जाने जाते हैं।जिन्होंने कुछ ऐसे कार्य किये जो आज भी चर्चा में रहते है।

इन्हीं के कार्यकाल में नोएडा और गाजियाबाद में भ्रष्टाचार में लिप्‍त करीब छह पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई थी।इनका कार्यकाल मेरठ में भी काफी चर्चाओं में रहा।मेरठ के नकली पेट्रोल प्रकरण में भी इनकी अहम भूमिका रही थी। जिसकी जांच शासन स्तर तक हुयी थी।इस मामले में 11 लोगों को जेल भेजा गया था जबकि दो इस्पेक्टर भी नप गए थे।अब गौतमबुद्ध नगर का चार्ज सम्भांलते ही पुलिस आयुक्त द्वारा अपराध व अपराधियों पर शिकंजा कसने के उद्धेश से अपना सख्त रूख अख्तियार कर लिया है।

इसी क्रम में अपराध को जड़ से खत्म करने के लिए पुलिस निरंतर अपराधियों की धड़ पकड़ कर रही है जिससे अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस को काफी मदद मिल रही है।आपको बता दे कि पुलिस आयुक्त को चार्ज संम्भाले अभी एक माह ही हुआ है।इस एक माह के अंदर पुलिस ने अपने आयुक्त के निर्देश पर करीब 154 अपराधियों पर नकेल कसी है।जिसमें जनपद में पुलिस व अपराधियों के बीच 10 पुलिस मुठभेड हुयी है जिनमें 09 अपराधी घायल व कुल 23 गिरफ्तार कर जेल भेजे दिये गये। मुठभेड के दौरान 02 पुलिसकर्मी भी घायल हुये।बताते चले कि गिरफ्तार किये गये अपराधियों में से 15 अपराधियों के ऊपर ईनाम घोषित किया गया था।

वही शराब तस्कारों पर शिकंजा कसते हुये लगभग 18 हजार 537 लीटर अवैध शराब तथा कुल 51 अभियुक्त गिरफ्तार किये।अवैध शस्त्र के साथ कुल 68 अपराधियों को 03 रिवाल्वर ,45 पिस्टल देशी व 21 चाकू तथा 85 कारतूस के साथ गिरफ्तार किया। बात करे महिलाओं की तो महिलाओं के साथ उत्पीडन करने वाले 12 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया।वही सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने वाले लगभग 300 व्यक्तियों का चालान किया गया।पुलिस को सुविधा के लिए दिनांक 28 जनवरी 2020 को पुलिस आयुक्त,गौतमबुद्धनगर के द्वारा 47 बीट पुलिस अधिकारियों को बीट पुलिस प्रणाली के अन्तर्गत बीट वाहन (मोटरसाइकिल) का वितरण कर,हरी झण्डी दिखाकर फ्लैग ऑफ किया गया।

यह प्रणाली अपराधियों पर नजर रखने,क्षेत्र में शांति व्यवस्था कायम रखने और अपराध कम करने में बेहद उपयोगी होगी तथा जिसकी वजह से तेज प्रतिक्रिया,बेहतर सामुदायिक संबंधों,सड़क पर गहन समर्पित पुलिस उपस्थिति को उजागर किया जायेगा।बीट व्यवस्था की वजह से पुलिस कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर में भविष्य की पुलिस,स्मार्ट एवं सुरक्षित पुलिसिंग की स्थापना करेगी।

वही पुलिस लाईन में आवासित पुलिस परिवारों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुये दिनांक 05.02.2020 को स्वच्छ भारत अभियान के अन्तर्गत पुलिस लाईन परिसर की स्वच्छता के सम्बन्ध में गोष्ठी का आयोजन किया गया एवं पुलिस लाईन परिसर की साफ सफाई के लिए प्रोत्साहित करने के लिए कमेटी का गठन किया गया।

इस माह डायल 112 नोएडा पुलिस पर आने वाली सूचनाओं पर प्रतिक्रिया समय सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों में उच्चतम स्थान पर रहा है।कुल इवेन्ट 11949 रिकार्ड किये गये है।ये सारे कार्य पुलिस आयुक्त के आने के बाद सिर्फ एक माह में किये गये।उम्मीद है कि पुलिस आयुक्त के कार्यकाल में और भी नये परिवर्तन होंगें।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it