Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > ग्रेटर नोएडा के अरिहंत आर्डन सोसाइटी हत्याकांड में पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा, प्रेमी ही निकला महिला का हत्यारा

ग्रेटर नोएडा के अरिहंत आर्डन सोसाइटी हत्याकांड में पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा, प्रेमी ही निकला महिला का हत्यारा

डीसीपी ने बताया कि फ्लैट में किसी तरह की लूट अथवा चोरी के संकेत नहीं मिले हैं।किसी तरह की दुष्कर्म अथवा इस तरह के किसी प्रयास की भी बात प्रकाश में नहीं आ रही थी

 Shiv Kumar Mishra |  6 March 2020 3:16 PM GMT  |  नोएडा

ग्रेटर नोएडा के अरिहंत आर्डन सोसाइटी हत्याकांड में पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा, प्रेमी ही निकला महिला का हत्यारा
x

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा।अपराध पर अंकुश लगाने वाली पुलिस को उस वक्त एक बड़ी सफलता मिली जब थाना बिसरख पुलिस ने थाना क्षेत्र में हुयी एक महिला की हत्या के मामलें में एक युवक को गिरफ्तार किया गया है।आपको बता दे कि पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के निर्देश पर जिले में अपराधियों के खिलाफ कारवाई की जा रही है। इसी क्रम में थाना बिसरख प्रभारी मनीश चौहान के नेतृत्व में पुलिस ने थाना क्षेत्र में हुये अरिहंत आर्डन सोसाइटी हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा करते दावा किया है कि युवक और महिला की दोस्ती लाइक ऐप पर हुई थी। और प्रेमी महिला को ब्लैकमेल कर उससे रकम वसूलता था।

पुलिस आरोपी युवक से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।आपको बताते चले कि दिनांक 5 मार्च 2020 बिसरख थाना क्षेत्र की अरिहंत आर्डन सोसाइटी उस वक्त सनसनी मच गई थी जब वहा स्थित एक बंद फ्लैट में महिला का शव मिला।सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य एकत्रित करने के बाद पुलिस ने आशंका व्यक्त की थी कि हत्या किसी करीबी द्वारा की गयी है। महिला का पति एनटीपीसी में डीजीएम के पद पर कार्यरत है।

डीसीपी सेंट्रल जोन हरीश चंदर ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि अरिहंत आर्डन सोसाइटी के एक बंद फ्लैट से खून बाहर आ रहा है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने फ्लैट का दरवाजा खोला। अंदर एक महिला खून से लथपथ हालत में पड़ी थी।मृतका की पहचान नीरजा चौहान के रूप में हुई। डीसीपी ने बताया कि फ्लैट में किसी तरह की लूट अथवा चोरी के संकेत नहीं मिले हैं।किसी तरह की दुष्कर्म अथवा इस तरह के किसी प्रयास की भी बात प्रकाश में नहीं आ रही थी।

डीसीपी ने बताया कि पुलिस की जांच जैसे की आगे बढी मृतका के मोबाईल फोन की जांच करने पर पाया गया कि मृतका सोशल साईट के लाइक टू टिक टॉक एप पर एक्टिव है तथा मृतका के भारी संख्या में फालोवर्स है। लाइक टू टिक टॉक एप तथा सोसाईटी के पास लगे सीसीटीवी कैमरो की गहन जांच पडताल करने पर राघव कुमार पुत्र विपिन कुमार निवासी. म0नं0 डी. 167 पीरगढी कैंप दिल्ली हाल पता. सच कहूं कंपनी सेक्टर. 80 नोएडा की उपस्थिति मृतका के साथ अत्यधिक पाई गई।मृतका तथा राघव उपरोक्त का लाइक टू टिक टॉक एप पर विडियो शेयर करना पाया गया तथा लाइक टू टिक टॉकएप के माध्यम से दोनो का आपसी मेलजोल बढ गया।

राघव कुमार का मृतका के घर पर सीधे आना जाना शुरु हो गया था। मृतका द्वारा राघव को अपना परिचित बताकर सोसाईटी के गेट पर एंट्री करने के लिए कह दिया गया था।डीसीपी ने बताया कि इस मामले में मृतका नीरजा चौहान की हत्या करने वाले अभियुक्त राघव कुमार को गिरफ्तार किया गया। पुछताछ के दौरान अभियुक्त ने बताया कि अभियुक्त राघव व मृत्तका नीरजा चौहान की लाइक टू टिक टॉक एप के माध्यम से लगभग 2- ढाई वर्ष पहले हुई थी। जिस पर अभियुक्त राघव व मृतका नीरजा का अकाउन्ट था जिसके जरिए दोनो तरह.तरह की वीडियो बनाया करते थे व एक दुसरे को शेयर किया करते थे।इससे दोनो में करीबी बढने लगी और अभियुक्त राघव का मृतका के घर पर बिना रोक टोक आना जाना शुरु हो गया। विगत दिवस को मृतका नीरजा के घर पर दोनो का पैसे के लेन देन को लेकर झगडा हो गया था और अभियुक्त द्वारा मृतका के साथ मारपीट कर गला दबा कर हत्या कर दी गई।

डीसीपी ने बताया कि अभियुक्त राघव ने घटना का इकबाल करते हुए बताया कि हत्या के बाद वो मृतका का मोबाईल व मृतका के घर का बाहर से ताला लगा कर चाबी भी लेकर चला गया था। मृतका के मोबाईल व चाबी के गुच्छे को अभियुक्त ने अपने घर के पास फैंक दिया था।मृतका के मोबाईल व चाबी के गुच्छे को अभियुक्त की निशानदेही पर पुलिस ने बरामद कर लिया है।



Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it