Top
Begin typing your search...

नोएडा के सेक्टर-135 स्थित सीज फायर कंपनी सील,19 लोगों में फैला था कोरोना वायरस

जिले में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुये यहा एक तरफ कल मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी व सीएमओं को खरी खोटी सुनाई।

नोएडा के सेक्टर-135 स्थित सीज फायर कंपनी सील,19 लोगों में फैला था कोरोना वायरस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा: जिले में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुये यहा एक तरफ कल मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी व सीएमओं को खरी खोटी सुनाई।जिसकी वजह से गौतमबुद्ध नगर के डीएम को हटा कर नये डीएम को तैनात कर दिए गए है।इन सबकी वजह नोएडा के सैक्टर-135 में स्थित सीजफायर कंपनी है।जहा कुछ दिन पूर्व 11 कर्मचारियों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। पहले तो कंपनी के खिलाफ केस दर्ज हुआ।उसके बाद उन लोगों के संम्पर्क में आने के बाद आठ लोग और इससे प्रभावित हो गये।मामला मुख्यमंत्री की नजर में आने के बाद कंपनी को सील कर दिया।

आपको बता दे कि इस कंपनी में बीते दिनों लंदन से एक ऑडिटर आया था और कंपनी ने इसकी बात प्रशासन से छुपाई बल्कि कर्मचारियों के बचाव के लिए भी जरूरी इंतजाम नहीं किए।कंपनी की लापरवाही से 11 कर्मचारी समेत कुल 19 लोगों में कोरोना का संक्रमण फैला है।जबकि ऑडिटर पास के ही एक फाइव स्टार होटल में ही ठहरा था।अब विदेशी ऑडिटर के जरिए कंपनी के कर्मचारियों में संक्रमण फैल गया था।फ्हले 11 कर्मचारियों के संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है।उसके बाद 8 अन्य लोगों में भी संक्रमण की पुष्टि हुयी थी।अब आलम ये है कि संक्रमित कर्मचारियों के संम्पर्क में आने पर उनके परिजन में भी संक्रमण की आशंका बढ़ चुकी है।बता चले कि कंपनी के खिलाफ कुछ दिन पूर्व

गौतमबुद्ध नगर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अनुराग भार्गव ने एक्सप्रेसवे थाने में केस दर्ज कराया है।वही उसके बाद लंदन से आए ऑडिटर के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है।यह FIR महामारी अधिनियम 1897 के तहत दर्ज कराई गई है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it