Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए एसएसपी वैभव कृष्ण ने लांच किया ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल

अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए एसएसपी वैभव कृष्ण ने लांच किया 'ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल'

एसएसपी ने इस अभियान को शुरू करने के लिए सोमवार की रात गौतमबुद्ध विश्विद्यालय के सभागार में मीटिंग की।इस मीटिंग में अपर पुलिस अधीक्षक, उपाधीक्षक,थाना प्रभारी और सभी चौकी प्रभारी बुलाए गए थे।

 Special Coverage News |  17 Sep 2019 6:13 AM GMT  |  नोएडा

अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए एसएसपी वैभव कृष्ण ने लांच किया ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल
x

धीरेन्द्र अवाना

नाोएडा। गौतमबुद्ध नगर के तेज तर्रार,कर्मठ और ईमानदार एसएसपी वैभव जिनका जिले में आने का उद्देश ही अपराध व अपराधियों का खात्मा करना है।इसी उद्देश का पालन करते हुये कप्तान ने बड़े बड़े अपराधियों को उनकी सही जगह दिखा दी है। आपको बता दे कि एसएसपी वैभव कृष्ण ने अपराधियों को पकड़ने के लिए कई अभियान चलाये जिसमें पुलिस को बड़ी कामायाबी मिली। जिले में आते ही कप्तान ये दिखा दिया कि अगर कोइ अधिकारी मन से कुछ कार्य करे तो जिले में बड़ा बदलाव हो सकता है।

इसी क्रम में जिले में एसएसपी के द्वारा 'ऑपरेशन टारगेट क्रिमिनल' लांच किया है। 15 दिनों तक चलने वाले इस ऑपरेशन में एसपी और डीएसपी स्तर के अफसरों को भी क्रिमिनल पकड़ने होंगे।एसपी 3-3 और डीएसपी 5-5 बदमाश पकड़ेंगे। एसएसपी ने इस अभियान को शुरू करने के लिए सोमवार की रात गौतमबुद्ध विश्विद्यालय के सभागार में मीटिंग की।इस मीटिंग में अपर पुलिस अधीक्षक, उपाधीक्षक,थाना प्रभारी और सभी चौकी प्रभारी बुलाए गए थे।

एसएसपी ने बताया कि इस गोष्ठी में वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी और एक सेवानिवृत वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी बुलाए गए थे। इन दोनों लोगों ने विवेचनाओं की गुणवत्ता सुधारने के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया। प्रश्नोत्तर के माध्यम से विवेचनाओं और न्यायालयों में दिन प्रतिदिन सामने आने वाली समस्याओं का हल भी सुझाया गया। एसएसपी ने बताया कि कार्यशाला के बाद जिले में पिछले दो माह में घटित हुए अपराधों की समीक्षा की गई और अपराधों के प्रकार-प्रणाली पर विचार किया गया। ऐसे 55 चौकी इंचार्ज चिन्हित किये गए हैं, जिनके क्षेत्रों में इस अवधि में अपराधों में वृद्धि हुई है।उनको भविष्य में सुधार लाने के लिए कटिबद्ध होकर प्रयास करने और सचेत रहने को कहा गया है।

एसएसपी ने बताया कि सितम्बर माह की शुरूआत में लूट,छिनैती, गृहभेदन, वाहन चोरी करने वाले अपराधियों के विरुद्ध व्यापक स्तर पर कार्यवाही करने का आदेश दिया है। इस अभियान को 'आॅपरेशन टारगेट क्रिमिनल' नाम दिया गया है।इस अभियान में अपर पुलिस अधीक्षक नगर और ग्रामीण को तीन-तीन अपराधी, सभी क्षेत्राधिकारियों को पांच-पांच अपराधी, थाना प्रभारी और चौकी प्रभारियों को दस-दस अपराधी चिन्हित करके कार्यवाही करनी होगी। 15 दिनों के बाद इसकी समीक्षा प्रत्येक अधिकारीवार अलग-अलग की जाएगी।मुख्यमंत्री, शासन उच्च के अधिकारियों और स्थानीय स्तर पर प्राप्त जनशिकायतों के प्रकरणों की समीक्षा की गई। डिफॉल्टर अफसरों के काम पर नजर रहेगी।इनमें त्वरित निस्तारण करके आख्या प्रेषित करने का आदेश दिया गया है।

उन्होंने पूरे जनपद की यातायात व्यवस्था का भी विश्लेषण किया गया।डग्गामार वाहन, सड़कों पर अतिक्रमण हटाने और अवैध पार्किंग संचालित होने के मामलों की समीक्षा की गई। अधिकांश थानों द्वारा इस संबंध में की गई कार्यवाही को अपर्याप्त पाते हुए चेतावनी दी गयी और इसके प्रति गंभीर होेकर कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया गया। थानों पर नियुक्त कर्मचारियों की समस्याओं सम्बन्धी जो प्रार्थना पत्र थाना प्रभारियों द्वारा प्रस्तुत किये गए उन पर विचार करते हुए सम्बंधित सहायक को तत्परता से कार्यवाही करते हुए आवेदक को कृत कार्यवाही से अवगत कराने हेतु निर्देशित किया गया।इस कार्यक्रम का आयोजन जिले में हो रही आपारधिक घटना को रोकना हैं। नोएडा पुलिस दिन प्रतिदिन अपराध को रोकने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रही हैं। हमारी टीम का विश्वास है कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट की अपराधिक समस्या को जल्द की काबू कर लिया जायेगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it