Top
Begin typing your search...

एसएसपी वैभव कृष्ण ने एचसीएल फांउडेशन के साथ मिलकर शुरू की नयी पहल, गरीब बच्चों को मिलेगा खाना व शिक्षा

एसएसपी वैभव कृष्ण ने एचसीएल फांउडेशन के साथ मिलकर शुरू की नयी पहल, गरीब बच्चों को मिलेगा खाना व शिक्षा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। गौतमबुद्ध नगर जिले की बात करे तो ये एक ऐसा जिला है जो प्रदेश सरकार को सबसे ज्यादा राजस्व देता है। इसको उत्तर प्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे तो कुछ गलत नही होगा।यहा कितने अधिकारी आये और कितने ही गये लेकिन ऐसे बहुत कम अधिकारी आये जिन्होंने जिले के बारे में गंभीरता से सोचा। आज हम एक ऐसे अधिकारी की बात करते है जिन्होंनें अपने काम के आगे आने वाली हर मुसीबत को आसानी से निमटा लिया। या यू कहे कि बड़े बड़े दवाबों के बाद भी अपना सिर नही झुकने दिया चाहे वह दवाब सतापक्ष का हो या किसी और का।

हम बात कर रहे है जिले के तेज तर्रार व ईमानदार एसएसपी वैभव कृष्ण की। जिन्होंनें जिले का चार्ज लेते ही अपराध व अपराधियों का जड़ से खत्म करने का प्रण लिया था। आज करीब लगभग साल बीत जाने के बाद जिले की स्थिति में जमीन व आसमान का फर्क है। जिले में आज अपराध अपने निम्न स्तर पर है। वैभव कृष्ण एक ऐसे आईपीएस अधिकारी जिसका लोहा तो अब प्रदेश सरकार भी मान चुकी है। अपनी काबलियत से वजह से ही ये दूसरे कप्तानों के लिए प्रेरणा के प्रतीक बन चुके है।

पहले भष्टाचार को बढ़ावा देने वालों के खिलाफ कारवाई करने के लिए चर्चा में आये जिले के कप्तान वैभव कृष्ण का दूसरा रूप भी देखनों को मिला। आम लोगों के बीच ये चर्चा आम थी कि एसएसपी बहुत सख्त है लेकिन उनके जानने वाले बताते है कि वो जितने सख्त है उतने कोमल भी है। गरीब लोगों के प्रति उनका एक विशेष लगाव है।जिसका उदाहरण हमें जिलें के एसएसपी कार्यालय में देखने को मिला।




आपको बता दे कि गौतमबुद्ध नगर के सुरजपुर स्थित एसएसपी कार्यालय में नोएडा पुलिस व एचसीएल फांउडेशन द्वारा संयुक्त रुप से 'नन्हे परिन्दे'नामक एक नयी पहल का शुभांरम्भ किया गया।इस कार्यक्रम में नोएडा पुलिस व एचसीएल फांउडेशन के बीच एक एमओयू साईन किया गया।जिले के एसएसपी वैभव कृष्ण और एचसीएल फांउडेशन के अधिकारियों द्वारा शुरु किये इस का कार्यक्रम का उद्देश सड़को पर पाये जाने वाले गरीब बच्चों को शिक्षित करना व उनके भरण पोषण का ध्यान रखना।

इस कार्यक्रम के तहत नोएडा शहर में कुछ बसें चलायी जायेगी जिसमें महिला चालक के साथ शिक्षक भी होगें। यह बस आधुनिक शिक्षा के उपकरणों से लैस होगी। बस चलाने का मुख्य उद्देश नोएडा के विभन्न स्थानों पर खासकर सड़को पर रहने वाले गरीब बच्चों को बुनियादी शिक्षा उपलब्ध करना है। इसके अतिरिक्त एचसीएल फांउडेशन इनके भरण पोषण का भी ध्यान रखेगा।इस प्रयास से बच्चों में आत्म विश्वास बढ़ेगा व सामाजिक हिंसा से दूर रहेंगें।




नोएडा पुलिस व एचसीएल फांउडेशन का मानना है कि इस प्रयास से बच्चों को सोचने की एक नई दिशा मिलेगी एंव उन्हें असामाजिक गतिविधियों से विमुख कर मुख्य धारा से जोड़ा जा सकता है। 'नन्हे परिन्दे' के द्वारा नोएडा पुलिस ने एचसीएल फांउडेशन के साथ मिलकर एक नयी पहल करते हुये 'स्ट्रीट चिल्ड्रन'को कुछ सिखाने व उनके भरण पोषण का प्रयास किया है। जिससे उनका जीवन बेहतर हो सके।

Special Coverage News
Next Story
Share it