Top
Begin typing your search...

यूपी की चर्चित शिक्षिका अनामिका शुक्ला के खिलाफ एक और केस दर्ज

यूपी की चर्चित शिक्षिका अनामिका शुक्ला के खिलाफ एक और केस दर्ज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

famous teacher Anamika Shukla : प्रयागराज में केस दर्ज किया गया है.

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश के कासगंज में बेसिक शिक्षा विभाग को चकमा देकर बड़ा फर्जीवाड़ा करने वाली टीचर अनामिका शुक्ला नाम की महिला की गिरफ्तारी के बाद बड़े-बड़े खुलासे सामने आ रहे है. इन दिनों चर्चा में आई शिक्षिका अनामिका शुक्ला का नाम प्रयागराज से भी जुड़ा है. वहीं कर्नलगंज थाने में अनामिका शुक्ला के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. एफआईआर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुमार कुशवाहा की तहरीर पर लिखी गई है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

बताया जा रहा है कि वह कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में कार्यरत जो शिक्षिका अनामिका शुक्ला चर्चा में है, उस नाम से प्रयागराज के सोरांव के गोहरी स्थित कस्तूरबा बालिका विद्यालय में भी महिला चार महीने तैनात रही. मामले की तह तक जाने के लिए उसके शैक्षिक और अन्य अभिलेख खंगाले जा रहे हैं, ताकि पता चले कि इस प्रकरण में उसकी क्या भूमिका है.

दरअसल जिस अनामिका सिंह को पुलिस ने शनिवार को कासगंज से पकड़ा है, उसका असली नाम प्रिया जाटव है. हालांकि, अभी यह खुलासा नहीं हो सका कि, अनामिका शुक्ला कौन है? जिसके दस्तावेज पर प्रिया जाटव और अनामिका सिंह जैसी 25 लड़कियां नौकरी कर रही हैं. फिलहाल पुलिस पड़ताल में जुटी है.

उधर, सहारनपुर के मुजफ्फराबाद ब्लॉक के कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में भी शिक्षिका की तैनाती पाई गई है. वह भी बाकायदा दस्तावेजों के साथ. हैरत की बात तो यह है कि जिल से ही शिक्षिका ने वेतन के तौर पर करीब एक लाख रुपए से ज्यादा ले चुकी हैं. मामले का खुलासा हुआ है तो बेसिक शिक्षा विभाग के अफसरों के होश उड़ गए.

इस खुलासे के बाद शिक्षा विभाग ने अनामिका को तलब किया और अपने मूल प्रमाण पत्रों के साथ सहारनपुर आने के लिए कहा. लेकिन वह सहारनपुर नहीं आई और उन्हाेंने वाट्सएप पर अपना त्यागपत्र भेज दिया.

Next Story
Share it