Top
Begin typing your search...

कुंभ में हो रही है फाइव स्टार होटल की व्यवस्था, 24 घंटे का 22 हजार होगा किराया

कुंभ में हो रही है फाइव स्टार होटल की व्यवस्था, 24 घंटे का 22 हजार होगा किराया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शशांक मिश्रा

कुंभ को भव्य और ग्लोबल बनाने के लिए सरकार और मेला प्रशासन कोई कसर नही छोड़ रहा है!कुंभ में आने वाले दर्शनार्थियों को संगम की रेत में पांच सितारा होटल की सुविधाओं का लाभ लेने का अनोखा अवसर मिलेगा ! साठ एकड़ में बस रही एनआरआई सिटी को देखने के लिए शहर के लोग अरैल पहुँच रहे है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अर्ध कुंभ को कुंभ का नाम देकर इसकी भव्यता को विश्वस्तरीय बनाने का काम अंतिम रूप में है । टेंट माय सिटी की तैयारी कुंभ मेले में इस बार हर किसी को आकर्षित करेगा।

60 एकड़ में 50 करोड़ की लागत

अरैल घाट पर 60 एकड़ में एनआरआई सिटी 50 करोड़ की लागत से बसाई जा रही है ।यहां प्रवासियों भारतियों के लिए 1200 कॉटेज बन रहे हैं। काम कर रहे इंजीनियर ने बताया कि लगभग एक कॉटेज की कीमत चार लाख आ रही है।अब प्रवासी भारतीयों के आने के कार्यक्रम के अनुसार वाराणसी से 24 जनवरी को प्रवासी भारतीय प्रयागराज आएंगे। टेंट माय सिटी सरकार की एक खास पहल है। जिसके जरिए विदेशों से आने वाले अतिथियों और श्रद्धालुओं को उच्चतम व्यवस्था देकर आस्था की नगरी की ओर आकर्षित किया जा सके। बीते दिनों 70 देशों के राजनयिकों ने तम्बुओं के शहर का दौरा किया था । यहाँ अलग.अलग देशों का झंडा रोहण किया गया था । टेंट माय सिटी का नाम इंद्रप्रस्थम रखा गया है । इंद्रप्रस्थम के प्रवेश द्वार का नाम अमृत मंथन तय किया गया है।

एनआरआई सिटी में तीन श्रेणियों के कॉटेज बनाए जा रहे

एनआरआई सिटी तक पहुंचने के लिए अस्थाई और स्थाई मार्गों का निर्माण किया गया है। अरैल घाट पहुंचने से पहले ही भव्य द्वार का निर्माण किया जा रहा है। जहाँ दूर से ही एनआरआई सिटी की भव्यता दिखने लगती है।

हमारे संवाददाता शशांक मिश्रा ने बुधवार को टेंट माय सिटी की तैयरियों का जायजा लिया। प्रोजेक्ट डायरेक्टर सतेंद्र कुमार की अगुवाई में निजी कंपनी हितकारी प्रोडक्शन एंड क्रिएशन इसे तैयार कर रही है। एनआरआई सिटी में तीन श्रेणियों के कॉटेज बनाए जा रहे हैं । जिनके नाम अत्री अंगिरासा और गौतमा रखा गया है सुरक्षा के लिए 60 एकड़ के दायरे को लोहे की जालियों से बैरिकेड किया जा रहा है। साथ ही नदी की ओर सुरक्षा के मद्देनजर बड़े हाई मार्क्स लगाए जा रहे हैं।

कुंभ के इतिहास में पहली बार विदेशी सैलानियों के लिए व्यवस्था

भव्यता का अंदाजा आप लगा सकते हैं कि इस को तैयार कराने के लिए 10 इंजीनियरों के साथ 500 मकैनिक अलग -अलग शिफ्ट में काम कर रहे हैं। मेहमानों की सुरक्षा के लिए 200 सीसी टीवी कैमरे 60 एकड़ में लगाए जा रहे हैं ।सुरक्षाबलों के 200 जवान हमेशा यहां तैनात रहेंगे ।60 एकड़ के दायरे में छह वॉच टावर बनाया जाना है। और इंद्रप्रस्थ से लगा हुआ तीन वीआईपी घाट बनाया जा रहा है।

ये हैं अलग अलग रूम

अत्री डीलक्स रूम

इंद्रप्रस्थ में प्रवेश करते समय मेहमानों को भारत की संस्कृति और आध्यात्मिक से रूबरू कराने के लिए 800 फीट लंबा और 65 फीट चौड़ा प्रवेश द्वार अमृत मंथन का रूप दिया जा रहा है। जिसे बनाने के लिए कोलकाता के एक नामी डेकोरेटर्स को बुलाया गया है।वहां काम कर रहे कारीगरों ने बताया कि सभी कोलकाता से आए हैं। अत्री डीलक्स रूम 336 स्क्वायर फीट का बन रहा है। इसमें एक डबल बेड एक टेबल दो सिंगल सोफा अटैच बाथरूम लॉन्ड्री के साथ नाश्ते खाने की व्यवस्था होगी इसका किराया 24 घंटे का दस हजार होगा।

अंगिरासा डीलक्स रूम

सुपर डीलक्स जिसका नाम अंगिरासा में 480 स्क्वायर फुट में बन रहे इस कॉटेज में डीलक्स रूम की सुविधाओं के साथ गीजर ,माइक्रोवेव ,स्टडी टेबल के साथ दो अलग.अलग सोफा रखा जाएगा ।एक दिन का किराया इसका लगभग 15 हजार बताया जा रहा है।

विला गौतमा

विला गौतमा लग्जरी स्विस कॉटेज जिसमे दो बेडरूम वाले फ्लैट की तरह टेंट लगाए जा रहे हैं ।900 वर्ग फुट में डिजाइन इसका टेस्ट में 2 बैडरूम एक ड्राइंग रूम के साथ एक डायनिंग एरिया भी होगा। जिसमें एलईडी टीवी के साथ इसका किराया 22 हजार 24 घंटे के लिए रहेगा।टेंट माय सिटी में एक लग्जरी अस्थाई होटल बनाया जा रहा है। जिसमें पांच सितारा होटलों की व्यवस्था होगी ।इसमें सुबह नाश्ते से लेकर रात के डिनर तक के अलग-अलग मेन्यु होंगे !पहली बार इस तरह की व्यवस्था संगम में देखने को मिलेगी!


Next Story
Share it