Top
Begin typing your search...

अतीक अहमद की अवैध बिल्डिंग हुई ध्वस्त

अतीक अहमद की अवैध बिल्डिंग हुई ध्वस्त
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नजूल की भूमि पर अतीक अहमद के अवैध कब्जों पर चला बुलडोजर, पी डी ए के अधिकारियों के साथ भारी फोर्स रही मौजूद

नितिन द्विवेदी, प्रयागराज l खबर प्रयागराज से है जहां पर पूर्व बाहुबली सांसद अतीक अहमद की मुश्किलें अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं और प्रयागराज प्रशासन ने उनकी अवैध संपत्तियों पर कब्जा करना शुरू कर दिया है l नजूल की भूमि पर अतीक अहमद के अवैध कब्जों पर चला बुलडोजर, पी डी ए के अधिकारियों के साथ भारी फोर्स रही मौजूद l

सिविल लाइंस स्थित पांचवी नवाब युसूफ रोड के अंतर्गत नजूल की भूमि पर बाहुबली माफिया अतीक अहमद और उनके गुर्गों ने कब्जा कर रखा था योगी सरकार ने इन दिनों भू माफियाओं के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है और जिन जमीनों पर भू माफियाओं ने अवैध तरीके से कब्जा कर रखा है उन्हें शासन को कब्जा मुक्त कराने के निर्देश दे दिए हैं l

इसी कड़ी में बाहुबली सांसद अतीक अहमद व उनके करीबियों के ठिकानों पर पीडीए लगातार बुलडोजर चला रहा है शनिवार को भी हाईकोर्ट पानी टंकी के निकट इनके साडू इमरान की अवैध बिल्डिंग पर भी शिकंजा कसा था और इमरान के द्वारा बनाई गई नजूल की जमीन पर अवैध होटल जमींदोज कर दिया था l इसी कड़ी में आज जो कि पी डी ए के द्वारा नजूल की जमीन पर अतीक अहमद के द्वारा गलत तरीके से बनाई गई बिल्डिंग को भी आज ध्वस्त किया गया और पीडीए ने बुलडोजर लगाकर अतीक अहमद के द्वारा बनाई गई अवैध तरीके की बिल्डिंग ध्वस्त कर दिया l इस मौके पर पुलिस भारी संख्या में मौजूद थी l

बताया जाता है कि सिविल लाइंस स्थित नवाब युसूफ रोड का अंश भाग क्षेत्रफल 418/ 215 वर्ग मीटर है l उक्त संपत्ति राज्य सरकार की नजूल भूमि है जिसे फ्री होल्ड करने हेतु अतीक अहमद पुत्र स्वर्गीय हाजी फिरोज अहमद निवासी 52 कसारी- मसारी, तहसील सदर, जिला प्रयागराज द्वारा प्रस्तुत प्रार्थना पत्र निरस्त किया जा चुका है l राज्य सरकार की उक्त नजूल संपत्ति पर से आज अवैध कब्जा हटाकर आज प्रशासन ने उसे अपने कब्जे में ले लिया हैl फिलहाल बाहुबली पूर्व सांसद अभी जेल में बंद है और उनके साथ-साथ उनके करीबियों पर भी प्रयागराज प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया हैl


Next Story
Share it