Top
Begin typing your search...

इलाहाबाद के माफिया अतीक़ के नाम पर पाकिस्तान से आया धमकी भरा फ़ोन, डर गया गज़ल गायक, पुलिस है मौन

इलाहाबाद के माफिया अतीक़ के नाम पर पाकिस्तान से आया धमकी भरा फ़ोन, डर गया गज़ल गायक, पुलिस है मौन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लेकिन जब पाकिस्तानी शख्स ने दोबार धमकाना शुरू किया तो उनके चेहरे रंग उड़ गया। आने वाले फोन नंबर में +92 देख कर उन्हें पक्का यक़ीन हो गया कि फोन पाकिस्तान से ही आया है।

नितिन द्विवेदी

प्रयागराज। क्या गुजरात की जेल में बंद माफिया और पूर्व संसाद अतीक़ अहमद रंगदारी के लिए पाकिस्तान से धमकी भरा फोन करवा रहा है? यह सवाल इस लिए खड़ा हुआ है क्योंकि प्रयागराज (पुराना नवाम इलाहबाद) के एक ग़ज़ गायक ने ज़िले के एसपी क्राइम ब्रांच को दी लिखित शिकायत में दावा किया किया है कि उससे माफिया डान अतीक़ अहमद के नाम पर रंगदारी वसूलने के लिए पाकिसतान के मोबाइल नंबर से धमकी भरा फोन आया है।

स्पेशल कवरेज न्यूज से बात करते हुए प्रयागराज के नौजवान ग़ज़ल गायक भूपेंद्र शुक्ला ने दावा क्या है कि उन्हें मंगलवार दोपहर को धमकी भरा फ़ोन आया था। इसस पहेल कि वो कुछ समझ पाते, फोन करने वाले ने पूर्व बाहुबली सांसद अतीक़ अहमद का नाम लेकर धमकी देकर कहा कि इलाहाबाद (प्रयागराज) में रहना है तो ठीक से रहो वरना बहुत जल्द उठवा लिया जायेगा l उन्होंने बताया कि उनके फोन पर +9288889999 नंबर से फोन आया था। बता दें कि +92 पाकिस्तान का अंतर राष्ट्रीय टेलीफोन कोड (ISD) है।

पाकिस्तान से आए इस धमकी भरे फोन से भूपेंद्र शुक्ला बेहद हैरान और परेशान हैं। उनका कहना है कि उनकी किसी से कोई दुश्मनी तो दूर कभी कहासुनी तक नहीं हुई है। वो एक सीधे-सादे ग़ज़ल गायक हैं। ग़ज़ गायकी के ज़रिए अपने परिवार का पेट भरने लायक कमा लेते हैं। उनकी इतना हैसियत नहीं है कि वे किसी माफ़िया या डान को रंगदारी दे सकें।



प्रयागराज में झूसी के रहने वाले ग़ज़ल गायक भूपेंद्र शुक्ला को पाकिस्तान से अतीक़ अहमद के नाम पर आए फोन पर जान से मारने की धमकी भी दी गई है। उन्हें धमका कर कहा गया कि समय रहते संभल जाओ वरना उठा लिए जाओगे तब पता चलेगा कि मैं कौन बोल रहा हूं? पहले तो उन्हें लगा कि उनके साथ कोई मज़ाक़ कर रहा है। लेकिन जब पाकिस्तानी शख्स ने दोबार धमकाना शुरू किया तो उनके चेहरे रंग उड़ गया। आने वाले फोन नंबर में +92 देख कर उन्हें पक्का यक़ीन हो गया कि फोन पाकिस्तान से ही आया है।

उन्होंने फोन करने वाले की बातों का आनन-फ़ानन में जवाब दिया और फ़ौरन आला पुलिस अधियारियों को मामले की जानकारी दी। आला अधिकारियों ने भूंपेंद्र शुक्ता की शिकायत तो ले ली है। लेकिन जांच का भरोसा देकर उन्हे चलता कर दिया। ख़बर लिखे जाने तक इस शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। पुलिस के आला अधिकारी इस मामले परर मीडिया से बात करने से कतरा रहे हैं। पुलिस को दी दी गई भूपेंद्र शुक्ला की शिकायत को आप यहां पढ़ सकते हैं।

अब सवाल यह उठता है कि पिछले चार महीने से गुजरात के अहमदाबाद की साबरमती जेल में अतीक़ अहमद के नाम पर पाकिस्तान से कौन फोन कर रहा है। क्या अतीक़ अहमद की पहुंच इतनी ऊंची है कि गुजरात जेल में रहकर वो के पाकिस्तान के अपराधियों से भी संपर्क करके अपने गृह जनपद के ग़ज़ल गायक को धमकी दिला रहे हैं। क्या अतीक़ अहमद को गुजरात जेल में भी फोन की सुविधा मिल रही है? यह अपने आप में बड़ा सवाल है।





ग़ौरतलब है कि अतीक़ अहमद पर बीएसपी विधायक राजू पाल की हत्या, लखनऊ के कारोबारी को गुर्गों से अगवा कराकर देवरिया जेल में पीटने सहित अन्य कई गंभीर आरोप हैं। जेल में पिटाई की घटना के बाद यूपी सरकार ने अतीक को बरेली जेल भेजते हुए देवरिया जेल के अधिकारियों पर भी कारवाई की थी। अतीक अहमद को 20 अप्रैल को नैनी सेंट्रल जेल भेजा गया था। जबकि 23 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने जेल में पिटाई की घटना और अतीक के अपराधिक इतिहास को देखते हुए यूपी सरकार को गुजरात की किसी जेल में भेजने का आदेश दिया था।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर इसी साल 3 जून को अतीक़ अहमद को गुजरात की अहमदाबाद स्थित साबरमती सेंट्रल जेल में शिफ्ट किया गया था। उसके नाम परक पाकिस्तान से धमकी भरा फोन आने की शिकायत मिलने के बाद प्रयागराज पुलिस के होश तो उड़ गए हैं लेकिन अभी वो इस मामले का जांच के नाम पर दबाने की कोशिश कर रही है। वहीं शिकायत कर्ता ग़ज़ल गायक भूपेंद्र शुक्ला बेहद डरे हुए हैं।

पुलिस अधिकारी इस मामले पर किसी भी तरह की प्रतिक्रिया देने से बच रहे हैं। एसपी क्राइम से इस बारे में कई बार संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन हर बार कोई न कोई बहाना कर इस पर बात करने को टाल गए। जैसे ही पुलिसा इस बारें में कोई प्रतिक्रिया देगी हम आपको उससे अवगत कराएगें।

Next Story
Share it