Top
Begin typing your search...

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम की निगरानी में तोड़ दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड, दस हजार हथेलियों ने रंगा कुंभ का कैनवास

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम की निगरानी में तोड़ दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड, दस हजार हथेलियों ने रंगा कुंभ का कैनवास
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शशांक मिश्रा

बीते कल बस वर्ल्ड रिकॉर्ड के बाद आज कुंभ मेला क्षेत्र के सेक्टर 1 में हजारों की संख्या में 8 घण्टे तक लगातार छात्र-छात्राएं और आम नागरिको ने पेंटिंग वॉल पर अपने हाथों के रंग बिरंगे छाप से जय गंगे थीम की पेंटिंग बनाई।

प्रयागराज मेला प्राधिकरण लगातार दूसरे दिन नया विश्व रिकॉर्ड रचने की तैयारी में है।कुंभ मेले में हुई विश्व स्तरीय तैयारियों को विश्व पटल पर लाने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दावेदारी प्रस्तुत की जा रही है। एक तरफ जहां गुरुवार को मिला प्राधिकरण द्वारा 500 से अधिक सटल बसों को एक साथ संचालित कर विश्व रिकॉर्ड दर्ज करने के बाद अब कुंभ मेले में आने वाले लोगों को लुभाने वाली पेंट माय सिटी की चित्रकारी को भी विश्व पटल पर प्रदर्शित किया जा रहा है। इसके लिए मेला प्राधिकरण के द्वारा गंगा पंडाल में लोगों को आमंत्रित किया।

प्रयागराज मेला प्राधिकरण की ओर से शुक्रवार को गंगा पंडाल में हजारों की संख्या में छात्र छात्राओं और नागरिकों के हाथ के छाप से पेंटिंग बनाई है।जो सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक चल रही है। इस कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं के साथ मेले में तैनात सुरक्षा कर्मी सहित सफाई कर्मियों ने भी हिस्सा लिया।

मेला प्रशासन द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अब तक 9 हजार से ज्यादा लोग पंडाल में आ चुके है। इसके पहले सियोल (साउथ कोरिया )में 4675 लोगों के एक वाल पर पेंडिंग करने का रिकॉर्ड था।


Next Story
Share it