Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > प्रयागराज > कुंभ मेला : महानिर्वाणी और अटल अखाड़ा के साधु-संतों ने किया पहला शाही स्नान, हजारों भक्तों ने लगाई डुबकी

कुंभ मेला : महानिर्वाणी और अटल अखाड़ा के साधु-संतों ने किया पहला शाही स्नान, हजारों भक्तों ने लगाई डुबकी

प्रयागराज के संगम तट पर महानिर्वाणी और अटल अखाड़ा के साधु-संतों ने गंगा में लगाई डुबकी।

 Special Coverage News |  15 Jan 2019 3:47 AM GMT  |  दिल्ली

कुंभ मेला : महानिर्वाणी और अटल अखाड़ा के साधु-संतों ने किया पहला शाही स्नान, हजारों भक्तों ने लगाई डुबकी

प्रयागराज : मकर संक्रांति का पहला शाही स्नान शुरू हो गया है। प्रयागराज के संगम तट पर महानिर्वाणी और अटल अखाड़ा के साधु-संतों ने गंगा में लगाई डुबकी। महानिर्वाणी और अटल अखाड़ा के संतों ने करीब 40 मिनट तक स्नान किया। इससे पहले शाही स्नान का पुण्य लाभ लेने के लिए लोगों का रेला रविवार देर रात से ही उमड़ पड़ा। अमरत्व की कामना के साथ गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती के संगम में डुबकी लगाने की कामना लिए चारों दिशाओं से आस्थावानों की टोली संगम की ओर कूच करती नजर आई। मेला प्रशासन का अनुमान है कि एक से सवा करोड़ श्रद्धालु मकर संक्रांति पर संगम स्नान करेंगे।



कुंभ में मकर संक्रांति पर सबसे पहले महानिर्वाणी अखाड़े का शाही स्नान सम्पन्न हुआ। फूल मालाओं से सजी आचार्य महंत और महामंडलेश्वरों की शाही सवारी अखाड़ों से निकली तो लाखों की संख्या में जुटे श्रद्धालु उन्हें निहारते ही रह गए। बैंड बाजों की धुन पर भक्त थिरकते हुये धर्म ध्वजा लेकर आगे आगे चल रहे थे। पीपा पल नंबर 4 से होते हुए अखाड़े की शाही सवारी करीब साढ़े 5 बजे संगम घाट पहुंची। पहले नागा साधुओं ने स्नान किया। इसके बाद सभी महामंडलेश्वरों ने शाही स्नान किया।


डीआईजी कुम्भ केपी सिंह ने बताया कि महिलाओं के लिए तीन अलग से यूनिट तैनात की गई है। 20 हजार जवान पुलिस, पैरामिलिट्री फोर्स और अन्य फोर्स के लगाए गए हैं। आपात स्थिति से निपटने के लिए क्विक रिएक्शन टीम (क्यूआरटी) भी तैनात की गई है। लोगों से अपील है कि अपने वाहन बीच सड़क पर खड़े करने की बजाय मेला क्षेत्र के आसपास बने पार्किंग स्थल पर खड़े करें।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top