Top
Begin typing your search...

छात्रपरिषद लागू करने को लेकर बिफरे छात्रनेता कहा छात्र संघ के मौजूदा स्वरुप को बदला गया तो हमलोग सड़क पर उतरेंगे

छात्रपरिषद लागू करने को लेकर बिफरे छात्रनेता कहा छात्र संघ के मौजूदा स्वरुप को बदला गया तो हमलोग सड़क पर उतरेंगे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शशांक मिश्रा

जहां एक तरफ इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन इविवि में छात्रपरिषद लाने को लेकर जोर दे रहा है वहीं दूसरी तरफ इस फैसले के विरोध में बयानबाजी जारी है. इन दिनों इविवि में दो गुट हो गए हैं एक गुट छात्रपरिषद का विरोध कर रहे हैं वहीं दूसरा गुट छात्रपरिषद का समर्थन कर रहे हैं.

आज छात्र संघ भवन पर इविवि के वर्तमान हालात पर छात्रों ने चर्चा की जिसमें प्रमुख रूप से विश्विद्यालय प्रशासन छात्र संघ को समाप्त करने के मुद्दे पर चर्चा की गई, चर्चा के दौरान BHU के पूर्व कुलपति प्रोफ़ेसर गिरीश चंद्र त्रिपाठी पर शिक्षिका के उत्पीड़न को लेकर भी चर्चा हुई सभी छात्र नेताओं ने सर्वसम्मति से कहा कि अगर छात्र संघ के मौजूदा स्वरुप को बदला गया तो हमलोग सड़क पर उतरने को बाध्य होंगे जिसकी सारी ज़िम्मेदारी इविवि प्रसासन और सरकार की होगी.


BHU के पूर्व कुलपति गिरीश चन्द्र के प्रकरण पर छात्र नेता रजनीश सिंह रीशू ने कहा कि उनके इस कूकृत्य के उजागर होने पर उन्हें नैतिक रूप से अपने पद से त्याग पत्र दे देना चाहिए और छात्र नेता ने इविवि के कुलपति रतन लाल हांगलू से यह माँग की जब तक जाँच चल रही है तब तक उन्हें पदमुक्त किया जाए. अगर छात्रों के माँगों को नज़रंदाज किया गया तो जल्द ही आंदोलन की रणनीति तय होगी. आज बैठक के दौरान वरिष्ठ छात्र नेता रजनीश सिंह रीशू ने की ,उपाध्यक्ष अखिलेश यादव , महामंत्री शिवम् सिंह , नेहा यादव , सूरज सौरभ सिंह , अंकित समेत कई छात्र नेता उपस्थित रहें.

Next Story
Share it