Top
Begin typing your search...

प्रयागराज में तहसीलदार को हुआ कोरोना, इलाके में मची दहशत

प्रयागराज में तहसीलदार को हुआ कोरोना, इलाके में मची दहशत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रयागराज. महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के चलते देशव्यापी लॉकडाउन अपने चौथे चरण में प्रवेश कर चुका है. काम-धंधे सब ठप होने से प्रवासी श्रमिकों/कामगारों देश के अलग-अलग राज्यों से अपने गृह जिलों पहुंचने के बाद कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ा है. बड़ी बात ये है कि ये संक्रमण ग्रामीण इलाकों में सबसे ज्यादा बढ़ रहा है, अगर प्रयागराज जैसे बड़े जिले की बात करें तो यहां के ग्रामीण इलाके में शहरी इलाकों की तुलना में संक्रमण 4 गुना ज्यादा पाया गया है. खास तौर पर उन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित मरीज ज्यादा मिल रहे हैं, जहां हाल में महाराष्ट्र, गुजरात जैसे राज्यों से कामगार वापस घर लौटे है.

ऐसे में समय रहते अगर सरकार और प्रशासन नहीं जागे तो इसका बड़ा खामियाजा भी उठाना पड़ेगा. वहीं शनिवार को संगम नगरी में कोरोना को दो नये संक्रमित मरीज सामने आये हैं. जिसमें जिले के सोरांव तहसील के तहसीलदार और महिला भी कोरोना संक्रमण से संक्रमित पाए गए हैं. सोरांव तहसीलदार पिछले कई दिनों से फील्ड में डटे हुए थे. फिलहाल उन्हें लेवल वन कोविड अस्पताल कोटवा बनी में भर्ती कराया गया है. अब तहसीलदार के संपर्क में आए तमाम लोगों को भी क्वॉरेंटाइन करने की तैयारी शुरू कर दी गई है.

आंकड़ों के आधार पर हम कह सकते हैं कि प्रयागराज के ग्रामीण अंचलों में कोरोना तेजी से पांव पसार रहा है. प्रयागराज में अब तक मिले कुल 63 कोरोना संक्रमित मामलों में से 50 मामले गंगा और यमुनापार के ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित है. सीएमओ डॉ जी.एस.बाजपेयी के मुताबिक जिले में अब तक लगभग एक लाख प्रवासी कामगार बाहरी राज्यों से पहुंचे हैं. जिनके आने के बाद कोरोना के मामले बढ़े हैं. आंकड़ों पर गौर करें तो तबलीगी जामात के बाद अब देश के विभिन्न हिस्सों से लौट रहे कामगारों से ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना तेज़ी से फैल रहा है.


Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it