Top
Begin typing your search...

CM योगी का बड़ा फैसला, '36,000 करोड़ की लागत से बनेगा 600 किमी लंबा गंगा एक्सप्रेसवे'

CM योगी का बड़ा फैसला, 36,000 करोड़ की लागत से बनेगा 600 किमी लंबा गंगा एक्सप्रेसवे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रयागराज : यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रयागराज में चल रहे कुंभ के दौरान कैबिनेट बैठक में बड़ा फैसला किया है। योगी कैबिनेट ने 600 किलोमीटर लंबे गंगा एक्सप्रेस वे बनाने के फैसले पर मुहर लगाई है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि यह दुनिया का सबसे लंबा एक्सप्रेस वे होगा। कैबिनेट मीटिंग में सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी फिल्म 'उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक' को प्रदेश में टैक्स फ्री करने पर भी मुहर लगी। इसके साथ ही सीएम योगी ने अयोध्या मामले मेें केंद्र सरकार की सुप्रीम कोर्ट में दी गई अर्जी का स्वागत किया है

कैबिनेट बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए सीएम योगी ने कहा कि प्रयागराज के बुनियादी ढांचे के लिए कुछ नहीं किया गया। उनकी सरकार ने अब प्रयागराज को पश्चिमी यूपी से जोड़ने के लिए एक्सप्रेसवे बनाने का फैसला लिया है। यह गंगा एक्सप्रेस वे 600 किलोमीटर लंबा होगा। मेरठ, अमरोहा, बुलंदशहर, बदायूं, शाहजहांपुर, फर्रुखाबाद, हरदोई, कन्नौज, रायबरेली और प्रतापगढ़ होते हुए गंगा एक्सप्रेस-वे प्रयागराज तक जाएगा। इसको बनाने में यूपी सरकार तकरीबन 36 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी।

'कुंभ के आयोजन से साफ हुई गंगा'

योगी ने कहा, 'यह यूपी कैबिनेट की पहली बैठक रही जो राजधानी लखनऊ के बाहर हुई। हमने प्रयागराज कुंभ को सकारात्मक ढंग से बतौर यूनिक इवेंट के रूप में दुनिया के सामने रखा। पीएम नरेंद्र मोदी ने गंगा पूजा के माध्यम से आयोजन प्रारंभ किया। दुनिया के 70 देशों की राष्ट्रध्वज यहां लहरा रही है। नमामि गंगे परियोजना का परिश्रम अविरल गंगा के रूप में दिख रहा है। पिछले कुंभ में मॉरिशस के पीएम ने गंदगी देख कर आचमन तक नहीं किया था, जबकि इस बार पीएम पीके जुगनाथ स्नान करके गए हैं।'

6,556 हेक्टेयर जमीन की होगी जरूरत

सबसे लंबा एक्सप्रेसवे पर सीएम ने कहा कि कैबिनेट ने वेस्ट यूपी से जोड़ने के लिए गंगा एक्सप्रेसवे बनाने को सहमति दी है। मेरठ से अमरोहा, बदायूं से प्रतापगढ़ होते हुए प्रयागराज तक यह एक्सप्रेसवे बनेगा। इस पर 36 हजार करोड़ रुपये खर्च होगा। 600 किलोमीर लंबे एक्सप्रेसवे के लिए 6,556 हेक्टेयर जमीन की जरूरत होगी। यह ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे होगा।

लगेगी ऋषि भरद्वाज की प्रतिमा

सीएम ने कहा कि प्रयागराज में भारद्वाज ऋषि का आश्रम और पार्क को ध्यान में रखकर काम होना चाहिए था। हम लोगों ने इसके सौंदर्यीकरण का फैसला लिया है। वह (भारद्वाज ऋषि) विमानन शास्त्र के ज्ञाता था। पुष्पक विमान भी उन्होंने ही बनाया था। महर्षि वाल्मीकि की भव्य प्रतिमा प्रयागराज और चित्रकूट के बीच पहाड़ी में लगेगी।

कुष्ठ रोगियों को मिलेगा आवास

उत्तर प्रदेश वन ग्रामों में रहने वाले थारू जनजाति को सौ फीसदी आवास देने की योजना शुरू की थी। इसी तर्ज पर कुष्ठ रोगियों के लिए आवास योजना शुरू की जा रही है। इससे 3791 कुष्ठ रोगियों को लाभ मिलेगा। हर एक कुष्ठ रोगी को आवास मिलेगा।

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे को मंजूरी

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे बुंदेलखंड के विकास के लिए बनेगा। वहां डिफेंस कॉरिडोर पहले से बन रहा है। अब एक्सप्रेसवे बनने से बुंदेलखंड का विकास तेजी से हो सकेगा। 8664 करोड़ रुपये खर्च होंगे। 3641 हेक्टेयर जमीन का अधीग्रहण किया जाएगा।

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा गोरखपुर

गोरखपुर को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को जोड़ने की योजना को मंजूरी दी गई है। यह लिंक रोड 91 किलोमीटर लंबा होगा। इसे बनाने में सरकार 5555 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

उरी फिल्म टैक्स फ्री

विकास की योजनाओं के साथ ही योगी सरकार ने सजिर्कल स्ट्राइक पर बनी फिल्म 'उरीः द सर्जिकल स्ट्राइक' को टैक्स फ्री करने का फैसला लिया है। सीएम ने बताया कि अब इस फिल्म पर स्टेट जीएसटी नहीं लिया जाएगा, ताकि देशभक्ति पर बनी यह फिल्म ज्यादा से ज्यादा युवा और सैनिक देख सकें।

अयोध्या मामले में सरकार की अर्जी का स्वागत

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार की अर्जी का योगी आदित्यनाथ ने स्वागत किया। उन्होंने कहा कि हम उसका स्वागत करते हैं। देश के सौहार्द के लिए यह कदम बहुत जरूरी था। हमारी पूरी सरकार इस पूरे निर्णय का हृदय से स्वागत करती है।

Next Story
Share it