Top
Begin typing your search...

बेटियों को नही जीने दे रहे भाजपाई, गैंगरेप के बाद आत्महत्या को मजबूर हुई युवती

बेटियों को नही जीने दे रहे भाजपाई, गैंगरेप के बाद आत्महत्या को मजबूर हुई युवती
X
सांकेतिक तस्वीर
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरज श्रीवास्तव

रायबरेली। बेटी पढ़ाओ,बेटी बचाओ का नारा देने वाली राज्य व केंद्र सरकार पर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर बेटियों से गैंगरेप करने और आत्महत्या को मजबूर करने के अतिगम्भीर आरोप मृतका की बहन ने लगाते हुए सीबीआई जांच की मांग के लिए विधान सभा भवन के सामने धरना दिया और कार्यवाही न होने पर परिवार सहित आत्मदाह किया।

शहर कोतवाली अंतर्गत नेहरू नगर निवासिनी युवती ने भाजपा के एक पूर्व विधायक, ब्लाक प्रमुख व भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष, आर एस एस नेता सहित दो कार्यकर्ताओ पर संगीन आरोप लगाते हुए जेल में बंद अपने भाई की सुरक्षा सहित अपनी बहन के साथ गैंगरेप करके उसे आत्महत्या को मजबूर करने वालो के साथ अपने भाई के हत्यारों के विररुद्ध मुकदमा पंजिकृत करने की मांग की है।


पीड़ित परिवार की युवती ने मुख्यमंत्री से मांग करते हुए प्राथर्ना पत्र में कहा कि है कि मेरी बहन भाई के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं नेताओ ने जिस तरह आत्म हत्या के लिए मजबूर किया न्याय मांगने पर भाई की हत्या के बाद दूसरे भाई को फर्जी मुकदमे में जेल भेजवाकर परिवार को खत्म करने का प्रयास किया है। उनको मुख्यमंत्री सलाखों के पीछे भेजे मामले की सी बी आई जांच कराई जाए, आरोपी इतने सरहंग है कि फर्जी मुकदमा में जेल भेज रहे है। भाई की भी जेल में हत्या करा सकते है। पीड़िता ने कहा कि हमे न्याय चाहिये ऐसा नही हुआ तो आत्मदाह के लिए विवश होना पड़ेगा।

Special Coverage News
Next Story
Share it