Top
Begin typing your search...

सोनिया ने रायबरेली से पांचवीं बार पर्चा भरा, नामांकन के बाद बोलीं सोनिया- अजेय नहीं हैं मोदी, 2004 के नतीजे याद रखें

यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने रायबरेली से 5वीं बार पर्चा दाखिल किया, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा भी उनके साथ मौजूद रहे।

सोनिया ने रायबरेली से पांचवीं बार पर्चा भरा, नामांकन के बाद बोलीं सोनिया- अजेय नहीं हैं मोदी, 2004 के नतीजे याद रखें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायबरेली : यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने रायबरेली से 5वीं बार पर्चा दाखिल किया। रायबरेली से नामांकन करने के बाद यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी अजेय नहीं हैं, आपको 2004 के नतीजे भी याद रखने चाहिए।

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुली चुनौती देते हैं कि वह भ्रष्टाचार पर उनसे बहस कर लें। अगर पीएम मोदी हां करें, तो वह उनके घर पर आने को तैयार हैं। राहुल ने कहा कि बहस हुई तो पता चल ही जाएगा कि चौकीदार चोर है।

सोनिया ने पूजा और हवन भी किया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी उनके साथ मौजूद रहे। सोनिया इस सीट पर 2004 से प्रतिनिधित्व करती आ रहीं हैं। इस बार उनका मुकाबला कभी कांग्रेस में रहे दिनेश प्रताप सिंह से है। दिनेश को भाजपा ने उम्मीदवार बनाया है।




1967 से ही गांधी परिवार पूजा-पाठ करके ही कलेक्ट्रेट में नामांकन के लिए पहुंचता हैं। सोनिया भी उसी परंपरा का पालन करती आई हैं।

रायबरेली सीट पर सपा-बसपा गठबंधन ने उम्मीदवार नहीं उतारा है। इस सीट पर 5वें चरण में 6 मई को मतदान होगा। सोनिया ने साल 2004, 2006 के उपचुनाव, 2009 और 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की। साल 1957 के बाद कांग्रेस ने इस सीट पर उपचुनाव सहित 19 बार जीत दर्ज की है।


Special Coverage News
Next Story
Share it