Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सहारनपुर > यहां तो बोटी-बोटी करने वाले साहब भी हैं, जरा उन्हें भी याद रखिएगा - मोदी

यहां तो बोटी-बोटी करने वाले साहब भी हैं, जरा उन्हें भी याद रखिएगा - मोदी

मजबूत सरकार ही कड़े और बड़े फैसले ले पाती है, देश को आगे बढ़ा पाती है। देश की साख रहे, इसके लिए मजबूत सरकार का होना बहुत जरूरी है। देश को आगे बढ़ाना है तो हम सब को मिलकर साथ चलना होगा

 Special Coverage News |  5 April 2019 1:27 PM GMT  |  सहारनपुर

यहां तो बोटी-बोटी करने वाले साहब भी हैं, जरा उन्हें भी याद रखिएगा - मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के गजरौला (अमरोहा) और कस्बा नानौता (सहारनपुर) में आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और विभिन्न मुद्दों पर कांग्रेस-सपा-बसपा के महामिलावटी गठबंधन पर प्रहार करते हुए वे खूब गरजे।

प्रधानमंत्री ने जन-सभा में उमड़े जनसैलाब का हृदय से अभिवादन करते हुए कहा कि बीते पांच वर्षों में जिस तरह आपने इस चौकीदार का साथ दिया है, उसके लिए मैं आपके सामने बहुत विनम्रता के साथ शीश झुकाता हूँ, आपको नमन करता हूँ। उन्होंने कहा कि कल ही आपके इस प्रधानसेवक को संयुक्त अरब अमीरात ने वहां का सर्वोच्च नागरिक सम्मान - ज़ायद मेडल देने का ऐलान किया है। मैं यूएई की सरकार और वहां की जनता का हृदय से आभार व्यक्त करता हूँ। उन्होंने कहा कि ये सम्मान मोदी का नहीं है, बल्कि 130 करोड़ भारतीयों का है, खाड़ी देशों के विकास में योगदान दे रहे लाखों भारतीयों का सम्मान है।

श्री मोदी ने कहा कि मजबूत सरकार ही कड़े और बड़े फैसले ले पाती है, देश को आगे बढ़ा पाती है। देश की साख रहे, इसके लिए मजबूत सरकार का होना बहुत जरूरी है। कांग्रेस एंड कंपनी और सपा-बसपा पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि आतंकियों को उन्हीं की भाषा में जवाब देना, कुछ लोगों को पसंद नहीं आ रहा। जब भारत डंके की चोट पर दुश्मन को मारता है, तब कुछ लोग भारत में रो रहे हैं। जब पाकिस्तान पूरी दुनिया के सामने बेनकाब हो रहा है, तो ये पाकिस्तान के पक्ष की बातें कर रहे हैं, वहां पर हीरो बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हो, समाजवादी पार्टी हो, बहुजन समाज पार्टी हो, आतंकवाद पर इसी नर्म रवैये की वजह से ही देशद्रोही तत्वों के हौसले बुलंद हुए हैं। इन दलों ने सिर्फ आतंक को ही मदद नहीं दी है, इन्होंने आपके जीवन, आपके अस्तित्व को भी संकट में भी डालने का काम किया है। आतंकियों को भी पता है कि वो एक गलती करेंगे तो मोदी उन्हें पाताल में भी खोजकर सज़ा देगा। मोदी आतंक को वोटबैंक से नहीं तौलता, तभी आतंक के मददगार आज जेल में बंद हैं। उन्होंने कहा कि बाबू जगजीवन राम अगर आज जीवित होते तो सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक पर कांग्रेस द्वारा सवाल उठाए जाने पर उन्हें कितनी पीड़ा होती। यदि कांग्रेस और महा मिलावट वाले जीतते हैं तो बाबूजी के आदर्शों का कभी सम्मान नहीं होगा। उन्होंने उत्तर प्रदेश वासियों को याद दिलाते हुए कहा कि जब राज्य में सपा और बसपा की सरकार थी तथा केंद्र में कांग्रेस पार्टी की सरकार थी तब आये दिन यूपी में धमाके होते रहते थे। देश की सुरक्षा एजेंसिया जब काफी मशक्कत से न हमलों में शामिल लोगों को पकड़ती थीं लेकिन वोटबैंक की अपनी सियासत की वजह से बुआ-बबुआ की सरकारें उन्हें छोड़ देती थीं। उन्होंने कहा कि बीते 5 वर्षों से ये धमाके रुक गए हैं क्योंकि दिल्ली में आपने साफ नीयत वाला चौकीदार बिठा दिया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश को आगे बढ़ाना है तो हम सब को मिलकर साथ चलना होगा। कुछ लोग हैं जो देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं, अलग-अलग जातियों के नाम पर अलग करने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे लोगों के स्वार्थ को देश की जनता को समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि सिर्फ एक परिवार की पहचान बनाने के लिए प्रतिष्ठा के लिए, एक परिवार के स्वार्थ की सिद्धि के लिए कांग्रेस ने बाबा साहब भीमराव अंबेडकर का भी अपमान किया था। कांग्रेस ने उन्हें चुनाव में हराया और देश के प्रति बाबा साहेब के योगदान को भुलाने की साजिश रची थी। बाबा साहेब ने उस परिवार को चुनौती थी, इसलिए बाद की पीढ़ियों ने भी बाबा साहेब से निरंतर बदला लिया। यह तो आज वोटबैंक की मजबूरी है, जो कांग्रेस बाबा साहेब का नाम लेती है, वरना ये वही कांग्रेस है जिसने दशकों तक उनकी फोटो तक संसद में लगने नहीं दी थी। नामदारों ने खुद को भारत रत्न दे दिया लेकिन बाबा साहब को भारत रत्न तब मिला जब बीजेपी ताकतवर हुई। देश और दुनियाभर में बाबा साहब से जुड़े स्मारक बेरुखी का शिकार रहे, हमने पंचतीर्थ बनाकर बाबा साहब की स्मृति को सम्मान दिया। उन्होंने कहा कि जिन्होंने बाबा साहब का अपमान किया वही कांग्रेस के नेता इस चौकीदार को शौचालय का चौकीदार कहते हैं। मेरे लिए तो ये सम्मान की बात है लेकिन कांग्रेस की सोच साफ-सफाई के काम से जुड़े करोड़ों चौकीदारों का अपमान है। मुझे एक और बात से हैरानी होती है। जब मैंने कुंभ में स्वच्छता से जुड़े साथियों के पैर धोए, उसका मज़ाक उड़ाने के लिए बहन जी के पास पूरा समय था। लेकिन सफाई-कर्मचारियों के कांग्रेस द्वारा अपमान पर उन्होंने बयान तक जारी नहीं किया। ये भी स्वार्थ की नीति है, जो सामान्य जन के सम्मान पर भारी पड़ जाती है।

मोदी ने कहा कि वोटबैंक की पॉलिटिक्स ने देश का बहुत नुकसान किया है। जब दिल्ली में कांग्रेस-सपा-बसपा महामिलावट की सरकार थी और यहां सपा की सरकार थी, तब एक प्रयोग इन्होंने मुज़फ्फरनगर में भी किया था। याद कीजिये कि जाति-पाति और बिरादरी के आधार पर कैसे-कैसे जुल्म हुए। अपराधियों को सपा-बसपा सरकार में खुली छूट मिले हुई थी। उन्होंने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोई ऐसा दिन नहीं होता था जब जब बेटियों के साथ अत्याचार की, व्यापारियों के साथ लूट-पाट की वारदातें नहीं होतीं थीं। कितनी ही बेटियों ने इस वजह से स्कूल जाना तक छोड़ दिया था। अपराध, बिजली की खराब समस्या, खराब सड़कों और राज्य की सपा-बसपा सरकार की गलत नीतियों के कारण निवेशक यहां उद्योग लगाने से लोग डरने लगे थे। इस स्थिति को बदलने के लिए, निवेशकों को विश्वास दिलाने की एक ईमानदार कोशिश की जा रही है। सपा सरकार में तो बेटियों पर क्या-क्या अन्याय हुआ, कितना अत्याचार हुआ, क्या बहन जी उन दिनों को अपने स्वार्थ के लिए भुला सकती हैं? क्या उत्तर प्रदेश भूल सकता है? सहारनपुर के बाज़ारों में आगज़नी की वह घटना, व्यापारियों के साथ वो अत्याचार, क्या यूपी वो दिन भुला सकता है? शामली में, कैराना का वो मॉडल जब घरों पर, दुकानों पर, कब्जे वाले गिरोह खुलेआम घूमा करते थे, पलायन के वो दिन अपने राजनीतिक फायदे के लिए बुआ-बबुआ भुला सकते हैं, लेकिन क्या उत्तर प्रदेश के नागरिक उसे भूल सकते हैं?

रालोद पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि चौधरी अजीत सिंह ने तो इस स्वार्थ में सारी हदें ही पार कर दी हैं। तब अपने राजनैतिक स्वार्थ के लिए वो चुप रहे और आज भी अपने स्वार्थ के लिए वो इस क्षेत्र में आप पर हुए अत्याचारों को भूल गए हैं। उनकी ज़ुबान दंगों के संरक्षकों के विरुद्ध नहीं उठती, हां, इस चौकीदार को गाली देने के लिए वे गली-गली जरूर घूम रहे हैं। छोटे चौधरी तो उनसे भी आगे बढ़ गए हैं। अनर्गल बयानबाजी हो रही है। हमेशा राष्ट्रहित के लिए, किसान हित के लिए समर्पित रहे चौधरी चरण सिंह जी को आज इन बयानों से कितना दुःख हो रहा होगा, आप समझ सकते हैं।


मोदी ने कहा कि इन महामिलावटी लोगों के आचरण से पता चलता है कि सत्ता में आने पर वे कैसे कार्य करेंगे। पिछड़ों के हितों की रक्षा कभी नहीं की जाएगी। याद रखिए, कांग्रेस हमेशा से पिछड़ों की विरोधी रही है। संसद में राजीव गांधी ने मंडल कमीशन का विरोध किया। कांग्रेस को ओबीसी कमीशन पर भी ऐतराज है। आपके इस चौकीदार के लिए किसान हो, जवान हो या फिर नौजवान, सबको सुरक्षा, सबकी समृद्धि और सबको सम्मान, यही ध्येय हमारा रहा है और रहेगा। यहां तो बोटी-बोटी करने वाले साहब भी हैं। याद रखिएगा वे बोटी-बोटी की धमकी देने वाले लोग हैं और हम बेटी-बेटी को सुरक्षा और सम्मान देने वाले लोग हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं अपनी मुस्लिम बहनों-बेटियों को स्पष्ट कहना चाहता हूँ कि- कांग्रेस, सपा और बसपा के राज में मुस्लिम महिलाओं का शोषण जारी रहेगा। वे ट्रिपल तलाक के खिलाफ कानून को कभी अनुमति नहीं देंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि हम जो अध्यादेश लाए, उसे कभी पारित न किया जाए।

कांग्रेस के घोषणापत्र पर प्रहार जारी रखते हुए श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने अपने ढकोसलापत्र में जो लिखा है, उसका मतलब ये है कि बेटियों के साथ राक्षसी अपराध करने वालों को भी अब जेल नहीं होगी, उन्हें जमानत दे दी जाएगी। ऐसी सोच वालों को देश माफ करेगा क्या? उत्तर प्रदेश के नागरिक माफ करेंगे क्या? ये बेटियों को सुरक्षा दे पाएंगे क्या? उन्होंने कहा कि सपा-बसपा का काम मिलों और कारखानों को करने का था और हमारा खुलवाने का। इन्होंने गन्ना मिलों के साथ भी यही किया और सहारनपुर के लकड़ी उद्योग को भी नहीं बख्शा। पिछले 21 साल से यहां पर आरा मशीनें नहीं लग पा रही थीं। योगी जी की सरकार ने आपकी परेशानी को समझा और सुलझाने का प्रयास किया है।

केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार द्वारा विकास के लिए उठाये गए क़दमों पर विस्तार से चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सौभाग्य योजना के तहत यूपी के 77 लाख गरीब परिवारों के घरों तक मुफ्त में बिजली कनेक्शन पहुंचा है, तो अमरोहा और शामली में एक लाख से अधिक गरीब परिवारों को रोशनी मिल चुकी है। कई गांव जो गंगा जी की गोद में बसे थे, वहां खंभे नहीं लग सकते थे, फिर भी सोलर पैनल से बिजली पहुंचाई गई। कनेक्टिविटी के साथ-साथ बैंकों को छोटे उद्यमियों और युवाओं के लिए बैंकों से ऋण को बहुत आसान कर दिया है। अब तो छोटे उद्यमियों के लिए 1 करोड़ रुपए तक के ऋण की स्वीकृति ऑनलाइन करने की भी व्यस्था हमने की है। जवान हों, नौजवान हों या फिर किसान, चौकीदार की सरकार ने हर हित की रक्षा करने का काम किया है। गन्ना किसानों का पैसा उसी सीज़न में चुकाया जाए, इसका गंभीर प्रयास हो रहे हैं। फसल की लागत का डेढ़ गुणा समर्थन मूल्य देने की बरसों पुरानी मांग को पूरा करने का काम भी भाजपा सरकार ने ही किया है। यूपी के दो करोड़ से अधिक किसान परिवारों को हज़ारों करोड़ रुपए की सीधी मदद हर वर्ष मिलनी शुरु हुई है।

मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता का एक-एक वोट उन महामिलावटी लोगों को सबसे करारा जवाब होगा जो विकास की राजनीति में नहीं बल्कि वोटबैंक की राजनीति में भरोसा करते हैं। जब आप मतदान करें, तो याद रखें कि भाजपा को दिया गया आपका एक-एक वोट महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करेगा। मेहनती व्यापारियों को अपराधियों और माफिया से बचाएगा। किसानों के लिए खुशहाली लाएगा। मजदूरों को जीने का सम्मान देगा। युवाओं के सपने और आकांक्षाओं को पूरा करेगा। हमारी सेना के मनोबल को बढ़ाएगा। हिंसा के बजाय देश में शांति का वातावरण बनाएगा। हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों को पूरा करेगा। न्यू इंडिया के सपनों को पंख देगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top